गृहमंत्री ने कहा- NRC लाएंगे, पीएम ने कहा- नहीं ला रहे… किसकी बात मानें

सोशल मीडिया पर आज की हलचल

पॉलिटॉक्स ब्यूरो. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब से राजधानी दिल्ली के रामलीला मैदान में आभार रैली को संबाधित किया है, आमजन को छोड़िए, बुद्धिजनों तक में उनके बयान को गफलत पैदा हो गई है. दरअसल रविवार को हुई बीजेपी की रैली में पीएम मोदी ने कहा कि वर्तमान में NRC को नहीं ला रहे हैं. जबकि अपनी पिछली रैलियों में गृहमंत्री अमित शाह ने तीखी स्वर में कहा कि नागरिकता कानून के बाद भविष्य में एनआरसी को देशभर में लागू किया जाएगा. अब इस बात पर देश में दो धड़े बन गए. एक जो मान रहा है कि एनआरसी पक्का लागू होगा. वहीं दूसरा धड़ा मान रहा है कि पीएम ने अमित शाह की बात को खारिज कर दिया.

राहुल रोशन ने ट्वीट हैंडल पर पोस्ट करते हुए लिखा, ‘अमित शाह ने कहा कि भविष्य में NRC आएगा और पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि वर्तमान में NRC नहीं ला रहे हैं. कुछ बुद्धिमान इस पर यही कहर सकते हैं कि मोदी ने शाह की बात को खारिज किया‘.

यह भी पढ़ें: शशि थरूर को भारी पड़ा सोशल मीडिया पर देश का नक्शा डालना

हालांकि गौर करने वाली ये है कि मोदीजी ने केवल ये कहा है कि ‘वर्तमान’ में एनआरसी नहीं ला रहे. यानि उन्होंने गृहमंत्री को किसी भी तरह से खारिज नहीं किया. खैर… लेकिन अब ये मुद्दा सोशल मीडिया पर फिर से आग की तरह फैल रहा है.

Patanjali ads

इस पर अपनी राय रखते हुए योगेंद्र यादव ने कहा कि आज देश को किस रजिस्टर की जरूरत है? NRC (राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर)? या फिर NRU (राष्ट्रीय बेरोजगार रजिस्टर)?

इसके बाद कुछ पत्रकारों और वरिष्ठजन ने अपने अपने विचार सोशल मीडिया पर साझा किए. आइए जानते हैं उनकी एनआरसी पर उनकी राय…

Leave a Reply