‘भयानक, क्रूर अपराध…ये रेपिस्ट सबसे बुरे किस्म के शैतान हैं’

सोशल मीडिया पर आज की हलचल

पॉलिटॉक्स ब्यूरो. प्रिंट मीडिया हो या इलेक्ट्रोनिक या फिर सोशल मीडिया, आज हर जगह केवल एक ही मुद्दा उठ रहा है और वो है हैदराबाद दुष्कर्म कांड. शुक्रवार रात हैदराबाद के शमशाबाद में कुछ युवकों ने एक महिला साथ सामुहिक दुष्कर्म के बाद पहले उसकी हत्या की और बाद में शव को आग के हवाले कर दिया गया. हैवानियत के इस नंगे नाच के बाद पुलिस की लचर कार्यवाही पर फिर से एक बार सवालिया निशान लग गया है. इस घटना के बाद देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं और मृतका को न्याय दिलाने एवं आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिए जाने की मांग की जा रही है. सोशल मीडिया पर भी ये मुद्दा #JusticeForPriyankaReddy और #PriyankaReddy हैशटैग से जमकर वायरल हो रहा है. अब इस लड़ाई में नेताओं के साथ बॉलीवुड सेलेब्स भी कूद गए हैं और न्याय व्यवस्था के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं. एक बॉलीवुड स्टार ने आरोपियों को मानव का भेष धरे हुए सबसे बुरे किस्म के शैतान बताया. वहीं एक एक्ट्रस ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह समय इन अपराधियों के मन में भय पैदा करने का है.

बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार ने ट्वीट कर कहा कि दिल दहलाने वाले हर गैंगरेप चाहे वह हैदराबाद में प्रियंका रेड्डी, तमिलनाडु में रोजा या रांची में कानून की छात्रा के साथ हुआ हो, समाज में एक भारी क्षति है. हमें इससे निपटने के लिए सख्त कानूनों की जरूरत है. यह खत्म होना चाहिए.

चुलबुल पांडे यानि सलमान खान ने ट्वीट पोस्ट करते हुए लिखा, ‘मानव का भेष धरे हुए ये ​रेपिस्ट सबसे बुरे किस्म के शैतान है’.

Patanjali ads

कांग्रेस के वायनाड सांसद राहुल गांधी ने अपनी राय रखते हुए कहा कि कोई भी दूसरे इंसान को इतनी भयानक, असुरक्षित हिंसा के अधीन कैसे कर सकता है. यह कल्पना से परे है.

शबाना आजमी ने इस घटना को भयानक और क्रूर अपराध बताते हुए ऐसे अपराधियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की.

एक्ट्रस रकुल प्रीत ने लिखा, ‘यह समय इन अपराधियों के मन में भय पैदा करने का है, वे फिर ऐसा न कर सकें’.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस निंदनीय घटना पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि कोई भी शब्द मेरे आक्रोश को व्यक्त करने के लिए पर्याप्त नहीं है. एक समाज के रूप में, हमें इन भयावह घटनाओं के घटित होने के समय से कहीं अधिक बोलना होगा.

सामाजिक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखने वाली रिचा चड्ढा ने इस घटनाक्रम को सांप्रदायिक नहीं बल्कि लैंगिक मुद्दा बताया. रिचा ने लिखा, ‘यदि स्थिति में बदलाव करना चाहते हैं तो सबसे पहले खुद में करें. यदि आप एक बदलाव करना चाहते हैं तो अपने आप से शुरुआत करें. हम इस देश में बेटों को गलत ठहरा रहे हैं’.

वहीं मानुषी छिल्लर ने कहा कि ऐसे राक्षसी और अनुचित अपराधों के दोषियों को गंभीर दंड मिलने की बात कही.

साउथ के सुपर स्टार महेश बाबू ने सोशल मीडिया पर अपनी राय रखते हुए कहा, ‘आइये हम सब मिलकर अपने देश की सभी महिलाओं और युवा लड़कियों को न्याय दिलायें … आइये भारत को सुरक्षित बनाएं !!’

Leave a Reply