जेवर एयरपोर्ट की सौगात दे मोदी बोले- पहले की सरकारों ने दिखाए सपने तो अखिलेश बोले- बेचना है तो…

देश के सबसे बड़े एयरपोर्ट की क्या दिलाएगा वोट, पीएम मोदी ने किया जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास, विपक्ष पर निशाना साधते हुए बोले- पहले था अभाव, सुनना पड़ता ताने, यूपी अब छोड़ रहा अंतर्राष्ट्रीय छाप, इन्फ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति नहीं राष्ट्रनीति का हिस्सा, योगी ने फिर छेड़ा जिन्ना अनुयायियों का राग, इधर अखिलेश बोले- अगर बेचना ही है तो बना क्यों रहे हो?

0
अब 'जेवर' से गरमाई सियासत
अब 'जेवर' से गरमाई सियासत
Advertisement2

Politalks.News/UttarPradesh. उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव (UttarPradesh Assembly Election) को लेकर अब बीजेपी (BJP) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (NarendraModi) पूरी तरह एक्टिव हो गए हैं. पीएम मोदी ने आज जेवर (Jevar International Airport) में देश ही नहीं एशिया के सबसे बड़े ‘नोएडा अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट’ (Noaida International Airport) का शिलान्यास किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर देशवासियों को बधाई दी. इस शिलान्यास समारोह के दौरान पीएम मोदी (PM Modi)ने देशवासियों को बधाई तो दी ही साथ ही विपक्षी दलों को जमकर आड़े हाथ लिया. पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि, ‘पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश में अभाव और अंधकार में बनाए रखा, झूठे सपने दिखाए, वही उत्तरप्रदेश आज राष्ट्रीय ही नहीं अंतर्राष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है. तो वहीं इस पूरे कार्यक्रम को विपक्ष आगामी विधानसभा चुनाव से भी जोड़कर देख रहा है. सपा (SP)प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि, ‘एक तरफ हवाई अड्डा बेच रहे हैं, तो दूसरी तरफ बना रहे हैं अरे भाई आप एयरपोर्ट बना ही क्यों रहे हो?’.

जेवर अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के शिलान्यास समारोह में भाग लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक जनसभा को भी संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी के साथ उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सही कई गणमान्य नेता मौजूद रहे. इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, ’21वीं सदी का नया भारत आज एक से बढ़कर एक बेहतरीन आधुनिक infrastructure का निर्माण कर रहा है. बेहतर सड़कें, बेहतर रेल नेटवर्क, बेहतर एयरपोर्ट ये सिर्फ इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स ही नहीं होते बल्कि ये पूरे क्षेत्र का कायाकल्प कर देते हैं, लोगों का जीवन पूरी तरह से बदल देते हैं.’

यह भी पढ़े: ममता का ‘मेगा भर्ती’ अभियान, दीदी की वरुण- मेनका सहित हिंदी बेल्ट के दिग्गज ‘नाराजों’ पर नजर

पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, ‘पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को अभाव और अंधकार में बनाए रखा, पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को हमेशा झूठे सपने दिखाए, वही उत्तर प्रदेश आज राष्ट्रीय ही नहीं, अंतर्राष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है.’ पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि ‘आजादी के बाद यूपी को ताने सुनने के लिए मजबूर कर दिया गया था. कभी गरीबी के ताने, कभी घोटालों के ताने, कभी खराब सड़कों के ताने, कभी माफियाओं के ताने लेकिन अब आपका उत्तरप्रदेश अंतरराष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है. पहले राजनीतिक लाभ के लिए रेवड़ियों की तरह इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की घोषणा होती थी, लेकिन प्रोजेक्ट जमीन पर कैसे उतरेंगे, इस पर विचार ही नहीं होता था. दशकों तक प्रोजेक्ट अटके रहते थे और देरी का पूरा का पूरा ठीकरा दूसरों पर फोड़ा जाता था.’

पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘आज़ादी के 7 दशक बाद, पहली बार उत्तर प्रदेश को वो मिलना शुरु हुआ है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है. लेकिन आज डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से, उत्तर प्रदेश देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में परिवर्तित हो रहा है’. पीएम मोदी ने कहा कि, ‘यूपी में और केंद्र में पहले जो सरकारें रहीं, उन्होंने कैसे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विकास को नजरअंदाज किया, उसका एक उदाहरण ये जेवर एयरपोर्ट भी है. 2 दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने इस प्रोजेक्ट का सपना देखा था. लेकिन बाद में ये एयरपोर्ट अनेक सालों तक दिल्ली और लखनऊ में पहले जो सरकारें रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा’.

यह भी पढ़े: भाजपा सांसद ने पीएम की दाढ़ी को बताया ‘अमर’, बोले- फटकारते हैं दाढ़ी तो झड़ते हैं 50 लाख आवास

पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘यूपी में पहले जो सरकार थी उसने तो बाकायदा चिट्ठी लिखकर, तब की केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस एयरपोर्ट के प्रोजेक्ट को बंद कर दिया जाए. अब डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से आज हम उसी एयरपोर्ट के भूमिपूजन के साक्षी बन रहे हैं.’ पीएम मोदी ने कहा कि, ‘इंफ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति का नहीं बल्कि राष्ट्रनीति का हिस्सा है. हम ये सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रोजेक्ट्स अटके नहीं, लटके नहीं, भटके नहीं. हम ये सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि तय समय के भीतर ही इंफ्रास्ट्रक्चर का काम पूरा किया जाए.’

एयरपोर्ट के शिलान्यास समारोह में उपस्थित सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि, ‘जिन्ना के अनुयायियों ने प्रदेश के गन्ने की मिठास में कड़वाहट घोली थी. गन्ने की मिठास को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए ये एयरपोर्ट बहुत अहम होगा’. तो वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘जेवर की जनता की आंखों में नई चमक दिख रही है. यह सपना पूरा होने की चमक है. पीएम मोदी उस सपने को साकार करने का संकल्प पूरा करने जा रहे हैं. प्रधानमंत्री का सपना था कि एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनेगा’.

यह भी पढ़े: कैटरिना वाले बयान पर सीएम गहलोत ने कड़ी नाराजगी तो पूनियां बोले- सस्ती लोकप्रियता का हथकंडा

वहीं जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास के साथ ही सियासी बयानबाजी का दौर भी शुरू हो चुका है. नोएडा में जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास पर अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा है. अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि, ‘अगर सपा सरकार के समय फ़िरोज़ाबाद में प्रस्तावित एयरपोर्ट बनने की अनुमति केंद्र की भाजपा सरकार ने रोकी न होती तो इस समय ‘जेवर’ के साथ ‘चूड़ियों’ को भी जुड़ने का मौका मिलता और उप्र का वैकासिक शृंगार पूर्णता की ओर बढ़ता. सपा ही देगी उप्र के विकास को नयी उड़ान’.

अखिलेश यादव ने आगे कहा कि, ‘भाजपा सरकार हवाई अड्डा बना क्यों रही है? एक तरफ हवाई अड्डा बेच रहे हैं, तो दूसरी तरफ वो एयरपोर्ट बना रहे हैं. बीजेपी ने वादा किया था कि इस देश का गरीब अब हवाई जहाज में चलेगा, लेकिन मैं ये पूछना चाहता हूं कि आज इस देश के कितने गरीब हवाई जहाज में चलने लगे हैं’. आपको बता दें कि जेवर एयरपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है. जेवर इंटरनेशनल एयपोर्ट के शिलान्यास के बाद अब उत्तर प्रदेश 5 अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला देश का पहला राज्य बन गया है. जेवर एयरपोर्ट में कुल 5 रनवे होंगे, पहले चरण में यहां 2 रनवे बनेंगे. आज शिलान्यास होने के बाद उम्मीद है कि नवंबर 2024 तक इस एयरपोर्ट से हवाई सुविधाएं शुरू हो जायेगी.

Leave a Reply