मुंबई में कंगना का दफ़्तर तोड़ा अब शिमला में प्रियंका गांधी के घर को तोड़ने की मांग हुई तेज

कंगना के मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़ के विरोध में टि्वटर पर लोगों ने हिमाचल के शिमला में स्थित प्रियंका गांधी के घर को गिराने की मांग सोशल मीडिया पर तेज कर दी, प्रदेश भाजपा ने शुरू की प्रियंका का घर तोड़ने की योजना की तैयारी, कंगना के मुद्दे पर हिमाचल विधानसभा में तनातनी, मुख्यमंत्री ठाकुर ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण कहा- उद्धव से करेंगे बात

0
Kangana Vs Priyanka
Kangana Vs Priyanka

Politalks.News/Himachal. हिमाचल प्रदेश की रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत के मुम्बई स्थित कार्यालय में बीएमसी द्वारा बुधवार को की गई तोड़फोड़ का अब प्रदेश में जबरदस्त विरोध शुरू हो गया है और हिमाचल में चौतरफा शिवसेना और महाराष्ट्र सरकार की जबरदस्त निंदा हो रही है. इसी बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का शिमला आवास चर्चाओं में आ गया है. कंगना के मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़ के विरोध में टि्वटर पर लोगों ने हिमाचल के शिमला में स्थित प्रियंका गांधी के घर को गिराने की मांग सोशल मीडिया पर तेज कर दी है.

बता दें, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का ने शिमला से 13 किलोमीटर दूर और समुद्र तल से 8 हजार फीट की ऊंचाई पर अपने लिए एक घर बनवाया है. घर को पहाड़ी शैली में बनाया गया है. इंटीरियर में देवदार की लकड़ी से सजावट की गई है. पिछले साल ही प्रियंका गांधी ने इसका गृहप्रवेश किया था, जिसमें राहुक गांधी ने भी शिरकत की थी.

हिमाचल की बेटी और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार में शामिल शिवसेना नेता संजय राउत के साथ जुबानी जंग के बीच मुंबई में बीएमसी ने कंगना के दफ्तर के एक हिस्से को तोड़ दिया है. बीएमसी ने मंगलवार को अवैध निर्माण का नोटिस भेजा था. इसके बाद बुधवार की सुबह बीएमसी की टीम कंगना के मुंबई पहुंचने से पहले ही उनके दफ्तर पहुंच गई और वहां तोड़फोड़ की कार्रवाई शुरू कर दी. हालांकि इसके बाद अभिनेत्री ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को खुली चुनौती भी दी. वहीं देशभर से कंगना को इन घटना पर सहानुभूति मिलने लगी.

यह भी पढ़ें: कंगना का अंगना तोड़ना पड़ा भारी, बॉलीवुड समर्थन में तो अपनों ने छोड़ा उद्धव का साथ

कंगना रनौत के मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़ के विरोध में टि्वटर पर लोगों ने हिमाचल के शिमला में प्रियंका गांधी के घर को गिराने की मांग कर डाली. एक यूजर ने ट्वीट कर कहा कि शिमला में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी का घर भी अवैध है, इसे भी तोड़ दिया जाए. इस पोस्ट पर यूजर ने सीएम जयराम ठाकुर को भी टैग किया है. वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि शिमला में प्रियंका गांधी ने शानदार घर बनाया है, लेकिन मुझे नहीं मालूम उन्हें यहां जमीन कैसे मिली है.वहीं, एक महिला यूजर ने लिखा, ‘हिमाचल सरकार को भी शिमला में प्रियंका गांधी के घर को तोड़ देना चाहिए.’

प्रदेश भाजपा ने शुरू की प्रियंका का घर तोड़ने की योजना की तैयारी

हिमाचल भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष रश्मिधर सूद ने बीएमसी की ओर से कंगना रनौत के दफ्तर तोड़ने की कड़ी निंदा की है. सूद ने कहा कि हिमाचल की बेटी कंगना के लिए जरूरत पड़ी तो शिवसेना के खिलाफ आंदोलन करेंगे और जैसे कंगना का दफ्तर तोड़ा गया, वैसे ही शिमला में प्रियंका वाड्रा के घर को तोड़ने की योजना तैयार की जाएगी. सूद ने कहा कि हिमाचल की सभी भाजपा महिला वर्कर कंगना के साथ खड़ी हैं. महिला मोर्चा की महासचिव वंदना गुलेरिया ने भी कंगना के दफ्तर को तोड़ने की निंदा की है. गुलेरिया ने कहा कि प्रदेश की पूरी महिलाएं कंगना के साथ खड़ी हैं. बाल ठाकरे के पुत्र ने एक बेटी के साथ अभद्र व्यवहार किया है.

प्रदेश कांग्रेस ने किया बचाव

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस की नेता विद्या नेगी ने भाजपा महिला मोर्चा के बयान पर कटाक्ष किया और कहा कि हमें भी कंगना पर गर्व है, लेकिन वह गुडिया के लिए न्याय के लिए कुछ नहीं बोलती हैं. इसके अलावा, पालमपुर भी एक बेटी के साथ अन्याय के लिए भी मांग उठाए. उन्होंने कांग्रेस को इस मामले में घेरने पर भी सवाल उठाए.

कंगना के मुद्दे पर हिमाचल विधानसभा में तनातनी

हिमाचल विधानसभा में बुधवार को अभिनेत्री कंगना रनौत की सुरक्षा के मुद्दे पर सत्ता पक्ष और विपक्ष में जबरदस्त तनातनी हो गई. जब सीएम जयराम ठाकुर कंगना के मामले पर बोलने उठे, तो कांग्रेस विधायक जगत सिंह नेगी भी खड़े हो गए. इससे सदन में माहौल गर्म हो गया और नेगी ने सीएम की ओर इशारा कर कुर्सी की मर्यादा की बात कही. सीएम समेत सत्तापक्ष और विपक्ष में नोकझोंक हुई. निर्दलीय विधायक होशियार सिंह ने कंगना की सुरक्षा और उनके मुंबई स्थित कार्यालय को तोड़ने का मामला उठाया.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जताई नाराजगी

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि कंगना रनौत हिमाचल की बेटी है और उनकी सुरक्षा का ध्यान रखा गया है. कंगना के इलाके और सरकाघाट के भाजपा विधायक कर्नल इंद्र सिंह बोले कि उनके पिता मेरे पारिवारिक मित्र हैं और पूरा परिवार दहशत में है.

यह भी पढ़ें: अभिनेत्री कंगना रनौत के ऑफिस पर बुलडोजर चलाए जाने के बाद हिली उद्धव सरकार की नींव भी

कंगना का मुम्बई ऑफिस तोड़ने को हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर ने दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है. सीएम ठाकुर ने कहा कि जो कार्रवाई महाराष्ट्र सरकार ने की है, उसे ठीक नहीं ठहराया जा सकता है. सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार ने भी सीआरपीएफ की सुरक्षा प्रदान की है, इसके लिए हम केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का धन्यवाद करते हैं. सीएम ने कहा कि इस प्रकार की कार्रवाई की हम कल्पना नहीं करते. उनकी सुरक्षा से संबंधित चिंता सभी लोगों को है. अगर जरूरत पड़ी तो महाराष्ट्र के सीएम को भी लिखेंगे और फोन पर भी बात करेंगे.

Leave a Reply