जयवर्धन ने स्वतंत्रता संग्राम की आड़ में तो दिग्गी राजा ने सिंधिया फाउंडेशन को लेकर कसा ‘महाराज’ पर तंज

जयवर्धन सिंह ने किया 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में ज्योतिरादित्य सिंधिया के पूर्वजों के अंग्रेजों का साथ देने का जिक्र तो दिग्गी राजा ने सिंधिया पर रिलायंस की सामग्री अपने नाम से बंटवाने का लगाया आरोप

0
जयवर्धन सिंधिया दिग्गी राजा
जयवर्धन सिंधिया दिग्गी राजा

पॉलिटॉक्स न्यूज/मध्यप्रदेश. ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने के बाद से सिंधिया लगातार कांग्रेस के निशाने पर हैं. सिंधिया के बीजेपी में जाने से सबसे ज्यादा आहत कांग्रेस के दिग्गज़ नेता और प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह हैं और इसी के चलते कभी-कभी दिग्गी राजा सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास निकाल लेते हैं. ऐसा ही कुछ हुआ जब दिग्गी राजा ने सिंधिया पर रिलायंस फाउंडेशन की ओर से दी जा रही राहत सामग्री पर सिंधिया फाउंडेशन के टैग बदलने पर तंज कसा. उसके तुरंत बाद दिग्गी राजा के सुपुत्र और पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह ने स्वतंत्रता संग्राम के बहाने बीजेपी नेता सिंधिया पर करारा हमला कर दिया.

एक टवीट पोस्ट करते हुए प्रदेश के पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह ने सिंधिया पर अपने वचनों से प्रहार करते हुए कहा, ‘आज ही के दिन मेरठ से देश के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की मशाल जलाई गई थी. वो तो एक ‘महाराज’ की महत्वकांक्षा आड़े आ गई थी नही तो मंगल पांडे, बहादुर शाह, रानी लक्ष्मीबाई, तात्या टोपे और हमारे स्वन्त्रता संग्राम सेनानियों के अमर बलिदान ने 1857 में ही आजादी का इतिहास लिख दिया होता.’

कांग्रेस नेता के इस कटाक्ष भरे ट्वीट को ज्योतिरादत्य सिंधिया के पूर्वजों से जोड़कर देखा जा रहा हैं जिन्होंने आजादी काल के दौरान रानी लक्ष्मीबाई के खिलाफ अंग्रेजों का साथ दिया था. हालांकि सिंधिया की इस बारे में अभी तक कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी मौजूदा स्थिति को देखते हुए बीते दिन एक बयान जारी कर कहा, ‘महाराज, आपके पूर्वज इतना छोड़ गये हैं और इतने सारे आपके निजी ट्रस्ट हैं जिनके माध्यम से इस संकट काल में राहत दी जा सकती थी. फिर आपको रिलायंस फ़ाउंडेशन के टेग हटा कर सिंधिया फ़ाउंडेशन का टेग लगा कर आपका और मोदी जी का चित्र लगाना कहॉ तक उचित है?’

दरअसल दिग्गी राजा ने इस पोस्ट के साथ एमपी कांग्रेस की एक वीडियो पोस्ट भी शेयर की है जिसमें सिंधिया के फाउंडेशन में रिलायंस की ओर से भेजी गई राहत सामग्री पर रिलायंस के टैग लगाकर सिंधिया फाउंडेशन और पीएम मोदी की फोटो चिपकाई जा रही हैं.

इस वीडियो को पोस्ट करते हुए एमपी कांग्रेस ने सिंधिया पर रिलायंस की राहत सामग्री में चिंदी-चोरी कर श्रेय लेने का आरोप लगाया है. कांग्रेस ने लिखा कि रिलायंस रिलीफ फंड द्वारा अशोकनगर जिले को भेजी गई राहत सामग्री पर सिंधिया अपना फ़ोटो चिपकाकर नकली दानवीर बन रहे हैं.

यह भी पढ़ें: भारत ने गिलगिट व बाल्टिस्तान के मौसम का हाल क्या सुनाया, जनाब इमरान खान की उड़ी नींद!

दरअसल, यह मामला ज्योतिरादित्य सिंधिया के गृह जिले ग्वालियर का है जहां कांग्रेस ने राहत सामग्री के वितरण पर सवाल उठाए हैं. कांग्रेस का आरोप है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जिस राहत सामग्री को अपना बताकर लोगों में बांटा, वह रिलायंस फाउंडेशन की ओर से उपलब्ध कराई गई थी. इस विवाद की शुरुआत पूर्व मंत्री और सिंधिया समर्थक नेता महेंद्र सिंह सिसोदिया के एक ट्वीट से हुई. सिसोदिया ने पिछले दिनों एक ट्वीट में जानकारी दी थी कि सिंधिया फाउंडेशन द्वारा गुना एवं बमौरी के जरूरतमंद नागरिकों के लिए 2000 राशन के पैकेट उपलब्ध करवाये गए.

Leave a Reply