अब उदयपुर में हुआ कोरोना ब्लास्ट, एक साथ 59 मरीज आए सामने, तो प्रदेश में 247 लोगों को किया गया डिस्चार्ज

जयपुर के बाद जोधपुर में प्लाज्मा थैरेपी से इलाज की मिली अनुमति, 152 केस आए सामने तो वर्तमान में प्रदेश में 1465 एक्टिव कोरोना पॉजिटिव मरीज

0
Corona(2)
Corona(2)

पॉलिटॉक्स न्यूज़/राजस्थान. प्रदेश में शुक्रवार को झीलों की नगरी उदयपुर में हुआ कोरोना ब्लास्ट जहां एक साथ 59 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए. प्रदेश के 14 जिलों से बीते दिन 152 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए वहीं 4 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई. लेकिन अच्छी खबर यह भी है कि शुक्रवार को भीब प्रदेश में 122 मरीज कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव हुए तो 247 ओर मरीजों को डिस्चार्ज किया गया. प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए गहलोत सरकार संकल्प बद्ध है. सरकार के प्रयासों के चलते प्रदेश में अब कोरोना रोकथाम के लिए जयपुर के बाद जोधपुर को भी प्लाज्मा थैरेपी से इलाज कैरने के ट्रायल की अनुमति आईसीएमआर ने दे दी है.

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि आईसीएमआर ने जयपुर के बाद जोधपुर के राजकीय मेडिकल कॉलेज को कोरोना से संक्रमित और गंभीर रूप से पीड़ित लोगों का प्लाज्मा थैरेपी से इलाज करने के ट्रायल की अनुमति दे दी है. ऐसे में अब प्रदेश में दो सरकारी और एक निजी चिकित्सा संस्थान में प्लाज्मा थैरेपी के जरिए कोरोना जैसी गम्भीर बीमारी का इलाज संभव हो सकेगा.

मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि कोटा, बीकानेर, अजमेर और उदयपुर मेडिकल कॉलेज को आईसीएमआर से ट्रायल की अनुमति लेेने के निर्देश दिए हैं, ताकि प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा मेडिकल कॉलेजों में प्लाज्मा थैरेपी की सुविधा को विकसित किया जा सके. मंत्री शर्मा ने विश्वास व्यक्त किया कि इस थैरेपी के द्वारा इलाज से प्रदेश में कोरोना से होनी वाली मृत्यु दर पर कमी लाई जा सकेगी. गौरतलब है कि प्रदेश में कोरोना की मृत्युदर महज 2.79 प्रतिशत है.

वर्तमान में 1465 एक्टिव कोरोना पॉजीटिव मरीज

मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि शुक्रवार देर रात तक प्रदेश में 3579 मरीज कोरोना पॉजीटिव चिन्हित हुए हैं. जिसमें से 2011 मरीज पॉजीटिव से नेगेटिव हो गए हैं, जबकि 1720 को तो अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया गया है. प्रदेश में बेहतरीन चिकित्सकीय प्रबंधन, सुविधाओं और चिकित्सकों की मेहनत से मरीज तेजी से रिकवर हो रहे हैं. मंत्री शर्मा ने आगे कहा कि कोरोना पर विजय का यह शुभ संकेत भी है. वर्तमान में प्रदेश में केवल 1465 एक्टिव कोरोना पॉजीटिव मरीज हैं. इनमें से भी ज्यादातर मरीज बेहतर स्थिति में हैं.

एसएमएस अस्पताल से कोविड मरीजों को किया जाएगा शिफ्ट

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि जयपुरिया के कोरोना मरीजों को आरयूएचएस और निम्स अस्पताल में शिफ्ट किया जा रहा है. जयपुर के एसएमएस अस्पताल की ओपीडी में 179 कोविड मरीज हैं, उनमें से 94 संदिग्ध हैं शेष ही पॉजीटिव हैं. एसएमएस अस्पताल के मरीजों को अन्य जगह पर शिफ्ट करने की योजना के लिए उच्चाधिकारियों को निर्देश दिए हैं, ताकि सामान्य बीमारियों के लिए अस्पताल का इस्तेमाल किया जा सके और उन्हें यहां सभी सुविधाएं पहले की तरह मिलती रहे.

यह भी पढ़ें: कोरोना की लड़ाई पीएमओ से लड़ी गई तो हम इसे हार जाएंगे- राहुल गांधी, बीजेपी ने किया पलटवार

बता दें, प्रदेश के 31 जिलों में अब कोरोना का संक्रमण फैल चुका है. प्रदेश में शुक्रवार देर रात तक जयपुर में 1145, जोधपुर-851, कोटा-232, अजमेर-196, टोंक-136, चित्तौढगढ-126, नागौर-119, भरतपुर-116, उदयपुर-79, बांसवाडा-66, पाली-55, झालावाड-47, भीलवाडा-43, झुंझुनू-42, बीकानेर-38, जैसलमेर-35, दौसा और धौलपुर में 21-21, अलवर-20, चुरू-14, राजसमंद-13, हनुमानगढ-11, सवाई माधोपुर, सीकर और डूंगरपुर में 9-9, करौली-5, प्रतापगढ और जालोर में 4-4, बाडमेर और बांरा में 3-3, सिरोही में 2 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ चुके है. शुक्रवार देर रात तक कोरोना संक्रमण के चलते राजधानी अजमेर में 2, जोधपुर और जोधपुर में 1-1 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई. इस तरह प्रदेश में अब कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 103 पहुंच गया है.

इसके साथ ही जोधपुर में दिल्ली से लौटे बीएसएफ के 42 जवानों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इससे पहले जोधपुर और जैसलमेर में ईरान से रेस्क्यू कर लाये गये भारतीयों में से 61 पॉजिटिव केस सामने आये थे, जयपुर में कोरोना के शुरूआती दौर में पॉजिटिव आए इटली के 2 मरीज, इन सभी की रिपोर्ट अब पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुकी है ओर इन सभी को डिस्चार्ज किया जा चुका है. इन सभी को मिलाकर अब तक प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3579 वहीं प्रदेश में 4 ओर संक्रमित मरीजों की मौत हो जाने से अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या बढकर 103 हो चुकी है. प्रदेश में अब तक सामने आए 3579 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 2011 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके है जिनमें से 1770 को डिस्चार्ज किया जा चुका है.

Leave a Reply