PoliTalks news
Advertisement2

लोकसभा चुनाव तो समाप्त हो चुके हैं लेकिन कुछ नेताओं की तीखी बयानबाजी अभी तक खत्म नहीं हुई है. धुर-विरोधी पार्टियों न केवल विपक्ष पर ​बल्कि कई बार अपने कटाक्ष बयान रूपी तीर से ऐसा निशाना साधती है कि सामने वाला पानी तक न मांगे. पार्टी आलाकमान के लाख समझाने के बाद भी कई बार ऐसे विवादित बयान सामने आ जाते हैं जो न केवल लंबे समय तक छाए रहते हैं बल्कि कई विवादों को भी अंजाम दे जाते हैं. आज की बयानबाजी में तेलंगाना के आदिलाबाद से बीजेपी सांसद सोयम बापू राव दिनभर छाए रहे. कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का कमाण्डर अभिनंदन की मूछों पर दिया गया बयान भी सुर्खियों में बना रहा.

‘आदिवासी महिलाओं का उत्पीड़न करते हैं मुस्लिम युवक, काट दो गला’
– सोयम बापू राव, बीजेपी सांसद

तेलंगाना के आदिलाबाद से बीजेपी सांसद सोयम बापू राव ने मुस्लिम युवकों को गला काटने की धमकी दी है. बीजेपी सांसद का आरोप है कि आदिवासी जिले में मुस्लिम युवक आदिवासी महिलाओं का उत्पीड़न कर रहे हैं और वह इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. धमकी देने के मामले में अल्पसंख्यक नेताओं ने बीजेपी सांसद सोयम बाबू राव के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.

‘विंग कमाण्डर अभिनंदन की मूछें घोषित हों राष्ट्रीय मूंछ’
– अधीर रंजन चौधरी, कांग्रेस नेता

लोकसभा में पक्ष और विपक्ष की तीखी बहस के बीच कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने विंग कमाण्डर अभिनंदन की मूछों को राष्ट्रीय मूंछ घोषित करने की अजीबोगरीब मांग रखी. असल में चौधरी ने लोकसभा चुनावों में बीजेपी द्वारा अभिनंदन के नाम का बार—बार इस्तेमाल करने को लेकर सत्ताधारी पक्ष पर टिप्पणी की थी.

‘जेडीएस के साथ गठबंधन से हुआ पार्टी को नुकसान’
केएच मुनियप्पा, कांग्रेस नेता

लोकसभा चुनाव में कर्नाटक में मिली करारी हार के लिए कांग्रेस नेता केएच मुनियप्पा ने प्रदेश की सत्ताधारी जेडीएस के गठबंधन को उत्तरदायी ठहराया है. मुनियप्पा ने कहा कि गठबंधन सिर्फ कांग्रेस के लिए महंगा साबित नहीं हुआ है, बल्कि जेडीएस को भी नुकसान हुआ है. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा जैसे नेता को भी हार का सामना करना पड़ा.

‘कहां मां गंगा और कहां गंदी नाली’
– अधीर रंजन चौधरी, कांग्रेस नेता

सदन में महामहीम रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना गंदी नाली से कर दी. उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद से प्रधानमंत्री की तुलना गलत है क्योंकि सिर्फ नाम नरेंद्र होने से किसी व्यक्ति की महापुरुष से तुलना नहीं की जा सकती है. मां गंगा की तुलना किसी गंदी नाली से नहीं की जा सकती है. चौधरी के इस बयान पर सदन में हंगामा मच गया.

 

Leave a Reply