अब TMC ने जागो बांग्ला में उगली आग- ‘कांग्रेस इन डीप फ्रीजर’, विपक्ष देख रहा ममता दीदी की ओर

ममता दीदी का मिशन दिल्ली! कांग्रेस पर फिर बड़ा हमला, TMC के मुख पत्र में सियासी लेख, कांग्रेस पर किए जमकर प्रहार, लिखा- 'कांग्रेस जूझ रही अंदरूनी झगड़ों से, विपक्ष को संगठित करने की नहीं बची 'जान'! पार्टी के नेता ही कर रहे नेतृत्व की आलोचना, ममता और पीके के बयानों के बाद यह लेख करेगा आग में घी का काम

0
अब TMC ने जागो बांग्ला में उगली आग
अब TMC ने जागो बांग्ला में उगली आग
Advertisement2

Politalks.News/CongressInDeepFreezer. देश के राजनीतिक इतिहास को अगर देखा जाए तो कांग्रेस के लिए आज से बुरा वक़्त कभी नहीं रहा. कांग्रेस (Congress) पार्टी अब अंदरखाने अपने ही नेताओं के साथ-साथ विपक्षी दलों के भी निशाने पर है. कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस (Trinmool Congress) के बीच चल रही जुबानी जंग अब थमने का नाम ही नहीं ले रही है. एक के बाद एक कांग्रेस में सेंधमारी के बाद अब ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) कांग्रेस नेतृत्व के खिलाफ खुलकर बयानबाजी कर रही है. हाल ही में अपने मुंबई दौरे के दौरान कांग्रेस को आड़े हाथ लेते ममता बनर्जी ने कहा था कि ‘अब UPA हैं कहां?’ साथ ही राहुल गांधी के विदेश दौरों पर भी सवाल उठाए थे. वहीं अब TMC के मुखपत्र ‘जागो बांग्ला’ (Jago Bangla) के सहारे कांग्रेस पर निशाना साधा है. TMC ने अपने मुखपत्र में कहा कि, ‘कांग्रेस अब पूरी तरह डीप फ्रीजर में चली गई है, क्योंकि विपक्षी ताकतें खालीपन को भरने के लिए अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ओर देख रही हैं.’

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को पटखनी देकर सत्ता में वापसी करने वाली ममता बनर्जी का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है. जिसके चलते ममता अब अपने आप को प्रमुख विपक्षी चेहरे के रूप में देख रही है. साथ ही कांग्रेस पर भी जमकर निशाने साध रही है. कांग्रेस पर निशाना साधने के लिए TMC ने अब अपने मुखपत्र ‘जागो बांगला’ का सहारा लिया है. ‘डीप फ्रीजर में कांग्रेस’ वाले शीर्षक के साथ TMC ने अपने आलेख में लिखा कि ‘टीएमसी लंबे समय से यह कह रही है कि कांग्रेस एक समाप्त हो चुकी ताकत है. उसमें भाजपा से लड़ने का जज्बा नहीं है.’

यह भी पढ़े: ममता बनर्जी को शिवसेना का बड़ा झटका, राउत बोले- कांग्रेस को छोड़ नहीं बन सकता कोई फ्रंट

TMC ने ‘जागो बांगला’ में लिखा कि, ‘कांग्रेस पार्टी भले ही देश की सबसे पुरानी पार्टी हो लेकिन आज वह अपनी अंदरूनी कलह से इस कदर जूझ रही है की ऊपर उठ ही नहीं पा रही है. कांग्रेस के पास विपक्ष को संगठित करने के लिए शायद ही समय या ऊर्जा है. संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) का अस्तित्व नहीं रह गया है.’ TMC ने अपने आलेख में लिखा कि, ‘देश को फिलहाल बीजेपी के खिलाफ एक वैकल्पिक मोर्चे की जरूरत है और विपक्षी दलों ने वह जिम्मेदारी TMC सुप्रीमो ममता बनर्जी को दी है. पूरा विपक्ष आज खालीपन को भरने के लिए उनकी ओर देख रहा है’.

‘जागो बांग्ला’ में छपे ‘कांग्रेस इन डीप फ्रीजर’ शीर्षक वाले लेख में प्रशांत किशोर द्वारा कांग्रेस को लेकर किये गए ताजा ट्वीट का जिक्र करते हुए आलेख लिखा गया कि, ‘केवल चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ही नहीं बल्कि खुद कांग्रेस के नेता भी अपनी ही पार्टी के नेतृत्व की आलोचना कर रहे हैं.’ बता दें कि PK ने गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था और कहा था कि ‘कांग्रेस का नेतृत्व किसी व्यक्ति का ‘ईश्वरीय अधिकार’ नहीं है. खासकर जब पार्टी पिछले 10 वर्षों में 90 फीसदी से अधिक चुनाव हार गई हो.’

यह भी पढ़े: क्या कैप्टन के बाद अब आजाद? ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे गुलाम नबी क्या बनाने जा रहे हैं नई पार्टी?

सियासी गलियारों में चर्चा है कि आज कांग्रेस की हालत ऐसी है कि वह अपनों के ही निशाने पर है. और इसका पूरा फायदा अगर कोई दल उठा रहा है तो वो है TMC. पूरे देश में कांग्रेस को पहले बीजेपी ने खोखला किया तो अब TMC भी उसी राह पर चल रही है. राजनीति के जानकारों की माने तो अगर आज ही देश में चुनाव कराये जाएं तो कांग्रेस को ज्यादा फायदा होता दिख नहीं रहा है. यहां तक कि अब तो उनकी पार्टी के ही नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद ने एक विवादित बयान देते हुए कहा था कि ‘आज देश में चुनाव हो तो कांग्रेस को 300 सीट भी नहीं मिलेगी.’ ऐसे में TMC द्वारा अपने मुखपत्र ‘जागो बांग्ला‘ में दिया गया शीर्षक ‘कांग्रेस इन डीप फ्रीजर’ कांग्रेस के वर्तमान हालातों पर बिलकुल सटीक बैठता है.

Leave a Reply