बॉलीवुड पर छाई सीएए की पॉलिटिक्स, नागरिकता संशोधन कानून बना दो दोस्तों में दुश्मनी की वजह

नागरिकता कानून पर आपस में भिड़े दो दोस्त नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर, एक ने कहा जोकर तो दूसरे ने बताया नसेड़ी और सरफिरा, बरसों पुरानी दोस्ती में आई खटास

0

पॉलिटॉक्स ब्यूरो. लगता है कि बॉलीवुड पर भी केंद्र सरकार के नागरिकता कानून का खुमार छाने लगा है. हाल में जेएनयू में दीपिका का प्रोटेस्ट भी जमकर सुर्खियों में रहा. अब नागरिकता संशोधन कानून को लेकर वैटरन एक्टर नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) और अनुपम खेर जैसे पुराने दोस्त एक-दूसरे के खिलाफ हो गए हैं. दरअसल हुआ कुछ यूं कि एक डिजिटल मीडिया संस्थान को दिए एक साक्षात्कार में नसीरुद्दीन शाह ने अनुपम खेर को जोकर बताया. नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि, “अनुपम खेर जैसे लोग काफी मुखर रहे हैं और मुझे नहीं लगता है कि उन्हें गंभीरता से लिए जाने की जरूरत है. वह जोकर हैं और एनएसडी और एफटीआईआई का कोई भी उनका समकालीन यह बात कह सकता है कि उनका बर्ताव साइकोपैथिक है. यह उनके खून में है और वह इसके बारे में कुछ नहीं कर सकते हैं.” बता दें, सीएए पर किए गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने ये बात कही.

यह भी पढ़ें: अक्षय कुमार ने खान तिकड़ी के खिलाफ खोला मोर्चा

दरअसल, अनुपम खेर (Anupam Kher) काफी बेखोफ स्वभाव के हैं और बीजेपी की केंद्र सरकार के मुखर समर्थक रहे हैं. वे सीएए के समर्थन में कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का खुलेआम समर्थन कर चुके हैं. ऐसे में जैसे ही नसरुद्दीन शाह का ये इंटरव्यू सामने आया, अनुपम खेर ने अपनी पुरानी दोस्ती को ताक पर रखते हुए शाह पर पलटवार किया. अनुपन ने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘जनाब नसीरुदिन शाह साब के लिए मेरा प्यार भरा पैग़ाम!!! वो मुझसे बड़े है. उम्र में भी और तजुर्बे में भी. मै हमेशा से उनकी कला की इज़्ज़त करता आया हूं और करता रहूंगा पर कभी कभी कुछ बातों का दो टूक जवाब देना बहुत ज़रूरी होता ये है मेरा जवाब…

वीडियो में अनुपम ने कहा कि जनाब नसीरुद्दीन शाह साहब मैंने आपका इंटरव्यू देखा, जिसमें आपने मुझे मसखरा और चापलूस बताया. इस तारीफ के लिए शुक्रिया, पर मैं आपको और आपकी बातों को बिल्कुल भी गंभीरता से नहीं लेता हूं. हालांकि मैंने आपकी कभी बुराई नहीं की, पर अब जरूर कहना चाहूंगा कि आपने इतनी बड़ी कामयाबी मिलने के बाद पूरी जिंदगी फ्रस्टेशन में गुजारी. अगर आप दिलीप कुमार साहब, अमिताभ बच्चन, राजेश खन्ना, शाहरुख खान और विराट कोहली की आलोचना कर सकते हैं. फिर मुझे यकीन है कि मैं महान संगत में हूं. इनमें से किसी ने भी आपके बयान को गंभीरता से नहीं लिया.

अनुपम ने आगे कहा कि कोई भी आपकी बातों को गंभीरता से नहीं लेता है क्योंकि हम जानते हैं कि यह आप बात नहीं कर रहे हैं. ये सभी वह पदार्थ हैं जिनका आप वर्षों से उपभोग करते आए हैं. इस वजह से क्या सही है क्या गलत इसका आपको अंतर ही पता नहीं चलता है. मेरी बुराई करके अगर आप एक-दो दिन के लिए सुर्खियों में आते हैं तो मैं आपको ये खुशी भेंट करता हूं. भगवान आपको खुश रखे. आपका सुख चिंतक अनुपम और आप जानते हैं मेरे खून में क्या है? मेरे खून में है हिंदुस्तान.

वहीं नसरुद्दीन शाह के अनुपम खेर को लेकर दिए गए इस बयान के बाद पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज के पति और मिजोरम के पूर्व राज्‍यपाल स्‍वराज कौशल (Swaraj Kaushal) ने ट्वीटर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए नसीरुद्दीन शाह पर निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि इस देश ने आपको सब कुछ दिया और फिर भी आप नाखुश हैं. स्‍वराज कौशल ने फिल्‍म देवदास का एक डायलॉग भी शेयर किया और लिखा, ‘नसीरुद्दीन शाह! बस तुम्‍हारे शब्‍द अब मेरे मन की मर्यादा को पार कर चुके हैं’.

कौशल ने अनुपम खेर और उनकी पत्‍नी किरण खेर का पक्ष लेते हुए कहा, ‘मिस्‍टर नसीरुद्दीन शाह, आप नाखुश व्‍यक्ति हैं. इस देश ने आपको नाम, काम, शोहरत और पैसा दिया है. आप अब भी भ्रम से मुक्‍त नहीं हुए हैं. आपने अपने धर्म से अलग दूसरे धर्म में शादी की. आपसे किसी ने कुछ नहीं कहा. आपके भाई सेना में लेफ्टिनेंट जनरल बने. क्या आपको समान मौकों से कहीं अधिक नहीं मिला.’

स्‍वराज कौशल ने नसीरुद्दीन शाह पर निशाना साधते हुए आगे कहा, ‘आप भेदभाव और उदासीनता की बात करते हैं. जब भी आप ये सब झक्‍कीपना करते हैं, ये आपकी अंतरात्‍मा है. जब अनुपम खेर खुद के ही देश में बेघर कर दिए जाने को लेकर अपना दर्द बयां करते हैं तो यह ‘चाटुकारिता’ है. देश ने आपको इतना सब दिया लेकिन आप उसे धन्‍यवाद नहीं देना चाहते.’

कौशल ने ये भी कहा कि अनुपम खेर खुद की मेहनत से स्‍टार बने हैं. उनके जवाब को देखिये. यह बिलकुल सज्‍जन व्‍यक्ति के समान है. जब आप बोले थे तो वो छोटा और संकीर्ण था. कहा जा सकता है कि आपका गुस्‍सा आपकी खीझ है.

दरअसल अनुपम खेर और नसीरुद्दीन शाह की इस लड़ाई की शुरुआत हुई कश्मीर पंड़ितों पर बनाए एक वीडियो से शुरू हुई थी जिसे अनुपम खेर ने हाल में अपने ट्वीटर हैंडल पर पिन किया. इस वीडियो में कश्मीर पंड़ितों के साथ पीएम मोदी और सीएए के समर्थन में बातें बताई गई हैं. खुद अनुपम ने इसे फिल्माया है. इस वीडियो के बाद नसीरुद्दीन शाह ने अपनी खीज भी जताई लेकिन जेएनयू के बवाल में ये दब कर रह गया. अब शाह के इस इंटरव्यू में उनके मन में दबी हुई बात सामने आ गई.

यह भी पढ़ें: खेमों में बंटा है बॉलीवुड जानिए कौन सा कैम्प है पॉवरफुल

वैसे देखा जाए तो नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर काफी गहरे गहरे दोस्त रहे हैं. साल 2008 में आई सस्पेंस थ्रिलर फिल्म ‘ए वेन्सडे’ में दोनों ने काफी अच्छा काम किया है. दोनों ने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया और गगनचुंबी सफलता भी हासिल की. अब ये दोस्ती दुश्मनी में बदलते दिख रही है. अब जय-वीरू की ये जोड़ी टूटेगी या फिर दोस्ताना वाले गाने गाएगी, ये तो समय ही बताएगा. फिलहाल सीएए के आग में ये दो दोस्त भी जल रहे हैं.

Leave a Reply