पायलट वार- यूपी में क्यों मची है भगदड़? जुमले हुए फैल तो ध्रुवीकरण की राजनीति पर उतरी भाजपा

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव का घमासान, पायलट ने किया कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन का दावा, यूपी की योगी सरकार को बताया फैल, पायलट बोले- 'राममंदिर को मुद्दा नहीं बना पाएगी भाजपा, यूपी में नेता बीजेपी को छोड़कर क्यों भाग रहे? पंजाब में चन्नी ने किया अच्छा काम'

0
पायलट वार- जुमले हुए फैल तो ध्रुवीकरण की राजनीति पर उतरी भाजपा
पायलट वार- जुमले हुए फैल तो ध्रुवीकरण की राजनीति पर उतरी भाजपा
Advertisement2

Politalks.News/Rajasthan. पांच राज्यों में होने वाले चुनावों को लेकर पूर्व उपमुख्यमंत्री और टोंक विधायक सचिन पायलट ने भाजपा को आड़े हाथे लेते हुए कहा है कि, ‘पांच राज्यों के चुनाव में किसान आंदोलन भाजपा के लिए नेगेटिव इंपैक्ट होगा, महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर जब भाजपा के जुमले फैल हो गए तो इनके नेता ध्रुवीकरण की राजनीति पर आ गए हैं. यह उनका परखा हुआ फॉर्मूला है’. यूपी की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए पायलट ने कहा कि, ‘डबल इंजन की सरकार कोरोना काल में लोगों को ऑक्सीजन भी नहीं दे पाई थी और उस समय विपक्ष के रूप में केवल प्रियंका गांधी ही मैदान में सरकार से मुकाबल कर रही थीं’. पायलट ने यह भी कहा कि, ‘राष्ट्रीय स्तर पर केवल कांग्रेस ही एक ऐसी पार्टी है जो भाजपा को हरा सकती है’. पायलट ने पांचों राज्यों में कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद भी जताई है.


यूपी में भाजपा को छोड़कर क्यों भाग रहे हैं नेता?- पायलट

यूपी भाजपा में मची भगदड़ को लेकर सचिन पायलट ने निशाना साधते हुए कहा कि, ‘यूपी बीजेपी से नेताओं का पलायन हो रहा है. मंत्री-एमएलए भाजपा छोड़ रहे हैं. इतना ही आत्मविश्वास है, तो लोग बीजेपी को छोड़कर भाग क्यों रहे हैं? यूपी बीजेपी में खींचतान भी जगजाहिर है’. राम मंदिर के चुनावी फायदे पर पायलट ने कहा कि, ‘सुप्रीम कोर्ट के आदेश से भव्य राम मंदिर बन रहा है. इसका सब दलों ने स्वागत किया है. बीजेपी को अब इसका फायदा नहीं होगा. बीजेपी चाहकर भी राम मंदिर को मुद्दा नहीं बना पाएगी.

यह भी पढ़ें- घेराव पर भड़के डोटासरा बोले- बर्खास्त हों किरोड़ी, केन्द्र से कोई बीजेपी नेता राजस्थान आया, तो ऐसा…

जब सब जुमले फैल हुए तो ध्रुवीकरण की राजनीति पर उतरी भाजपा- पायलट

भाजपा पर धर्म की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए पायलट ने कहा कि, ‘धार्मिक भावनाओं से राजनीति करना स्वस्थ परंपरा नहीं है. धरातल के मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए. पांच राज्यों के चुनावों में कांग्रेस से ज्यादा चुनौती बीजेपी के सामने आने वाली है. जनता बीजेपी की सरकारों से नाराज है. महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों से बीजेपी को नुकसान होगा’. 5 राज्यों में हो रहे चुनाव को लेकर पायलट ने कहा कि, ‘कांग्रेस पांचों राज्यों में बेहतर परफॉर्म करेगी. किसान आंदोलन का बीजेपी के लिए नेगेटिव इम्पैक्ट होगा. ये चुनाव बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती है. महंगाई बेरोजगारी से आदमी परेशान है. बीजेपी के किसी नेता ने नहीं कहा कि महंगाई, बेरोजगारी कम करेंगे. अंत में जब सब जुमले फेल हो जाते हैं तो ध्रुवीकरण की राजनीति पर आ जाते हैं. यह उनका परखा हुआ फॉर्मूला है’.

‘डबल इंजन की सरकार नहीं दिला पाई थी कोरोना काल में लोगों को ऑक्सीजन’
उत्तरप्रदेश के चुनाव को लेकर सचिन पायलट ने कहा कि, ‘यूपी में लोगों पर वहां की सरकार ने अत्याचार किया तो प्रियंका गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मजबूती से ग्राउंड पर रहकर विपक्ष की भूमिका निभाई. बाकी दल तो गायब थे. यूपी में बदलाव निश्चित रूप से होगा. नतीजे चौंकाने वाले आएंगे. कांग्रेस को अच्छी सफलता मिलेगी’. यूपी की योगी सरकार को निशाने पर लेते हुए पायलट ने कहा कि, ‘यूपी में योगीजी का रवैया ठीक नहीं रहा है. 80 बनाम 20 फीसदी की बात कोई मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठा व्यक्ति करता है तो यह शोभा नहीं देता. यूपी में भय का वातावरण है. डबल इंजन की सरकार कहते हैं, लेकिन कोरोना में यूपी सरकार लोगों के लिए इलाज की व्यवस्था नहीं कर सकी. नदियों में लाशें बहीं. लोगों को कोरोना में ऑक्सीजन तक नहीं मिली’.

यह भी पढ़ें- गैंगरेप पीड़िता को न्याय के लिए डॉ किरोड़ी का जोरदार प्रदर्शन, प्रियंका ने मिलने तक से किया इनकार

‘राष्ट्रीय स्तर को भाजपा को केवल कांग्रेस ही कर सकती है पराजित’
कांग्रेस की रणनीति के सवाल पर पायलट ने कहा कि, ‘यूपी में जितने भी दल हैं, उनका बैकग्राउंड जनता ने देखा है. बीजेपी से पहले सपा-बसपा की सरकारें भी लोग देख चुके हैं. 2017 में यूपी की जनता ने सपा को नकारा था. मैं समझता हूं. मुख्य फोकस बीजेपी को पराजित करना है. देश में अगर राष्ट्रीय स्तर पर बीजेपी को पराजित कर सकता है तो वह कांग्रेस है. यूपी में हमारे पास बीजेपी जितने संसाधन नहीं हैं, लेकिन हम चाहते हैं कि ग्रासरूट तक लोगों तक पहुंचे’.

पंजाब में चन्नी ने कम समय में किया अच्छा काम, सराह रहे हैं लोग
सचिन पायलट ने कहा कि, ‘उत्तराखंड में बीजेपी तीन सीएम बदल चुकी है. पंजाब में मल्टीपोलर कंटेस्ट हो रहा है. वहां पर कांग्रेस को फिर से बहुमत मिलेगा. पंजाब में जो मुख्यमंत्री कम समय में काम किया है, उसे लोग सराह रहे हैं. आम आदमी पार्टी जो काम दिल्ली में नहीं कर सकी, उसके वादे पंजाब में कर रही है.

Leave a Reply