बारिश आगे-पीछे करने वाले बयान पर फंसे मंत्रीजी, रावत बोले-धनसिंह को भारत रत्न दिलवा दें धामी

वर्षा ऐप वाले वायरल वीडियो पर मंत्री धनसिंह की सोशल मीडिया पर लगी क्लास, हरीश रावत का कटाक्ष, 'धनसिंह रावत को भारत रत्न दिलवा दें CM धामी' उत्तराखंड के मंत्री का बयान वायरल हुआ तो लोगों ने उनके दावे को अवैज्ञानिक करार देते हुए उड़ाया खूब मजाक, यूजर बोले, 'त्रिवेन्द्र, तीरथ क्या कम थे, जो अब ये आये हैं...'

0
बारिश आगे-पीछे करने वाले ज्ञान पर बुरे फंसे मंत्रीजी
बारिश आगे-पीछे करने वाले ज्ञान पर बुरे फंसे मंत्रीजी
Advertisement2

Politalks.News/Uttrakhand. उत्तराखंड में आपदा प्रबंधन मंत्री ध​नसिंह रावत का एक अजीबोगरीब बयान सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है. इसको लेकर लोग ही नहीं, विपक्षी नेता भी इसे अच्छा खासा ट्रोल कर रहे हैं. अनिश्चित और अनियमित बारिश को लेकर धनसिंह रावत एक वीडियो में कहते हुए दिख रहे हैं कि, ‘एक ऐसा ऐप बन रहा है, जो बारिश को आगे पीछे या कम ज़्यादा कर सकेगा’. अब इस बयान के बाद धनसिंह रावत पर कटाक्ष करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि, ‘उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को इस उपलब्धि के लिए उनका नाम भारत रत्न के लिए प्रस्तावित कर देना चाहिए’.

‘एप से बारिश को किया जा सकेगा आगे-पीछे’- धनसिंह
सबसे पहले आपको पूरा मामला बताते हैं सोमवार को उत्तराखंड सरकार के आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ. धनसिंह रावत का एक बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें वह कहते दिख रहे हैं कि ऐसे राज्य जो बारिश की अनियमितता और अनिश्चितता से पीड़ित हैं, उनके लिए यह ऐप बहुत कारगर साबित होगा. यही नहीं, रावत यह भी कहते दिखाई दिए कि वो भारत सरकार को इस ऐप के बारे में एक प्रेज़ेंटेशन देने जा रहे हैं और इसे अनुमति मिली तो यह अभूतपूर्व साबित होगा. इस वीडियो के वायरल होते ही इस अवैज्ञानिक बयान पर खासी प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया.

यह भी पढ़ें- यूपी में BJP की नींव मजबूत कर पार्टी की जीत पक्की करेंगे विस्तारक, बंसल खुद बना रहे स्पेशल-403

‘धनसिंह को भारत रत्न के लिए प्रस्तावित करें सीएम धामी’- हरीश रावत
उत्तराखंड में कुछ महीनों बाद विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां हैं तो ऐसे में कांग्रेस ने धनसिंह रावत के बयान को एक मौके की तरह लिया. कांग्रेस के महासचिव हरीश रावत ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि, ‘फेसबुक लाइव स्टेटमेंट देखा, जिसमें धनसिंह रावत उत्तराखंड ही नहीं, पूरे देश में बारिश की चुनौतियों से निपटा जा सकेगा. आखिर में चुटकी लेते हुए हरीश रावत ने लिखा कि, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को चाहिए कि वह धनसिंह जी का नाम भारत रत्न के लिए प्रस्तावित कर दें’.

सोशल मीडिया पर लोगों ने पूछा- त्रिवेन्द्र और तीरथ क्या कम थे….
सोशल मीडिया पर मंत्री धनसिंह रावत पर जमकर कमेंट आ रहे हैं. एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि, ‘मंत्री जी, इस एप से ईवीएम को भी हैक किया जा सकता है क्या? खाली बैठा हूं तो पूछ लिया. दूसरे यूजर ने कहा कि, ‘मंत्री जी, ऐसे खुलेआम मत बोलिए. ये टैक्नोलॉजी विदेशियों के हाथ लग सकती है. एक अन्य यूजर ने लिखा है कि, ‘त्रिवेंद्र, तीरथ क्या कम थे, खैर ये तो कुछ ज्यादा ही हैं. इन सबके बीच एक यूजर कुलदीप रावत ने लिखा कि, राइट ये एक डिवाइस है जो लैपटॉप-मोबाइल से संचालित की जाती है. दुबई में उसी से आज भी बारिश करवाई जाती है.

यह भी पढ़े:योगी मंत्रिमंडल विस्तार अगले हफ्ते, निषाद की होगी नैया पार तो जितिन को मिलेगा सत्ता का प्रसाद

भूकंप एप हो चुका है फैल!
आपको बता दें कि, उत्तराखंड सरकार ने एक भूकंप एप लांच किया था जिसमें दावा किया जा रहा था कि राज्य में किसी भी क्षेत्र में भूकंप आता है तो उसकी सूचना पहले ही मिल जाएगी. लेकिन, एक तरफ जहां राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भूकंप एप का शुभारंभ किया तो अगले 2 दिनों बाद राज्य में भूकंप की दस्तक हुई और करोड़ों की लागत से बनाया गया भूकंप एप जस का तस बना रहा.

 

Leave a Reply