पंचायत चुनावों को लेकर पूनियां ने साधा गहलोत सरकार पर निशाना, कहा- पंचायतीराज संस्थाओं को कमजोर करना चाहती सरकार

ऐसा पहली बार हुआ है कि सरपंचों के नामांकन के बाद चुनाव लंबित हो गए हों, पश्चिमी राजस्थान में हुए टिड्डी दलों के हमले को नियंत्रण करने में सरकार पूर्णत: विफल रही है, करीब 1.5 लाख हैक्टियर क्षेत्र में फसलें चट कर गईं टिड्डियां

0

पॉलिटॉक्स ब्यूरो. राजस्थान प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर सोमवार को प्रदेश के सभी नवगठित जिलाध्यक्षों की बैठक आयोजित हुई. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनियां ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि गहलोत सरकार पंचायतीराज संस्थाओं को कमजोर करना चाहती है. पार्टी को इस विषय पर गहलोत सरकार पर दबाव बनाना चाहिए, ताकि सरकार इन संस्थाओं को कमजोर ना कर सके. सरकार ने पंचायतीराज चुनावों को लेकर भ्रम पैदा किया है. ऐसा पहली बार हुआ है कि सरपंचों के नामांकन के बाद चुनाव लंबित हो गए हों, इससे कांग्रेस सहित अन्य दलों के सरपंच आक्रोशित है.

सतीश पूनियां ने आगे टिड्डियों के हमले का जिक्र करते हुए कहा कि पश्चिमी राजस्थान में टिड्डी दलों के हमले से जो किसान की फसलों को नुकसान हुआ है. करीब 1.5 लाख हैक्टियर क्षेत्र में टिड्डी फसलें चट कर गई है. राज्य सरकार टिड्डियों के नियंत्रण में पूर्णतः विफल रही है. टिड्डीयों से निजात पाने के लिये केन्द्र सरकार ने ब्रिटेन से 10 नई मशीनें ली हैं. केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये है. केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी वहां लगातार दौरे कर किसानों के लिये केन्द्र सरकार की ओर से अधिकत्तम सहायता दिलाने व टिड्डियों से निजात दिलाने का प्रयास कर रहे है. वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री वहां किसानों की जेब टटोल व गिरदावरी के आदेश देकर वापस आ गए.

पूनियां ने कहा कि हाल ही में श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ में नहरी के पानी को लेकर चल रहे किसान आंदोलन में एसीडी ठेकेदारों एवं अधिकारियों की मिलिभगत उजागर हुई है. इसमें शक की सुई मुख्यमंत्री गहलोत की ओर जाती है. मुख्यमंत्री के स्वयं के विभाग में इस प्रकार के कृत्य होने पर भी दोषियों पर कोई भी कार्यवाही नहीं की जा रहीं है.

बीजेपी द्वारा सीएए के समर्थन में प्रदेशभर में चलाए जा रहे जन-जागरण अभियान पर संतोष जताते हुए सतीश पूनियां ने कहा कि 15 से 17 जनवरी तक सीएए के समर्थन में जनसम्पर्क अभियान चलाया जायेगा. इस अभियान में सभी मोर्चों एवं प्रकोष्ठों द्वारा सीएए के समर्थन में घर-घर जाकर 88662-88662 नम्बर पर मिस्ड काॅल करवाई जाएगी.

यह भी पढ़ें: पूनियां ने उठाए प्रियंका की जयपुर यात्रा पर सवाल लेकिन भूल गए कि अमित शाह और निर्मला सीतारमण भी इसी माह रह चुके हैं प्रदेश के दौरे पर

वहीं बैठक को सम्बोधित करते हुये नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया ने कहा कि गहलोत सरकार एक साल फैल्योर सरकार है. गहलोत के शासन में अपराध बढ़ा और विकास रूका है. योजनाओं के नाम बदलने और योजनाओं को बंद करने में ही गहलोत सरकार ने पूरा साल निकाल दिया.प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनियां के नेतृत्व में हुई जिलाध्यक्षों की इस बैठक में जिलाध्यक्षों की संगठन में भूमिका, जिलाध्यक्षों द्वारा किये जाने वाले कार्यों एवं जिले की संगठन संरचना के बारे में चर्चा की गई. बैठक में संगठन महामंत्री वी. सतीश, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, प्रदेश महामंत्री वीरमदेव सिंह, कैलाश मेघवाल, प्रदेश उपाध्यक्ष अलका गुर्जर, प्रदेश मंत्री मुकेश दाधीच एवं सभी जिलाध्यक्ष उपस्थित रहे.

Leave a Reply