ओवैसी को योगी की ‘वार्निंग’- अगर माहौल खराब करने की कोशिश की तो जानता हूं सख्ती से निपटना

कानपुर में गरजे योगी, ओवैसी को सपा का एजेंट बताते हुए बोले- NRC-CAA को लेकर माहौल खराब किया तो निपटना आता है मुझे, मैं यूपी को बनाया है दंगामुक्त, ओवैसी ने यूपी में भी शाहीन बाग बनाने की कही थी बात, इधर नड्डा ने मोदी जो की बताया किसानों का सबसे बड़ा हितैषी

0
ओवैसी को योगी की 'वार्निंग'
ओवैसी को योगी की 'वार्निंग'
Advertisement2

Politalks.News/UttarPradesh. उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में एक बार फिर चचाजान और अब्बाजान की गूंज सुनाई देने लगी है. खैर ये तो चुनावी आगाज है और ना जाने कितनी दफा ये गूंज सुनाई देगी. देश के 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में अब कुछ ही समय शेष है. सभी दल अपनी अपनी रणनीति के तहत आगे बढ़ रहे हैं. इसी कड़ी में भाजपा की बूथ इकाई को मजबूत करने कानपुर पहुंचे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘बूथ अध्यक्ष सम्मेलन’ को संबोधित किया. इस दौरान दोनों ही दिग्गजों ने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा. जेपी नड्डा ने जहां परिवारवाद को लेकर विपक्षी पार्टियों को आड़े हाथ लिया. तो वहीं सीएम योगी यूपी चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे असदुद्दीन ओवैसी को सपा का पार्ट बताते हुए कहा कि, ‘अगर प्रदेश के माहौल को ख़राब करने की कोशिश की तो सरकार फिर उनसे सख्ती से निपटना जानती है’.

कानपुर में जिला मुख्यालय ऑफिस के उद्घाटन के मौके पर ‘बूथ अध्यक्ष सम्मेलन’ को संबोधित करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने विपक्षी दलों पर परिवारवाद को लेकर निशाना साधा. नड्डा ने कहा कि ‘भाजपा में नेताओं की कड़ी है, लड़ी है, यानी नेता ही नेता हैं, मगर वहां बाप और बेटा हैं. पहले चाचा को याद कर लेते थे. अब तो उन्हें भी नहीं करते.’ उन्होंने कहा कि, ‘बहुत लोगों ने अपने नाम के आगे किसान नेता लगाया. मगर किसी ने किसानों का भला नहीं किया’.

यह भी पढ़े: ‘हां मैं रहती हूं भगवान भरोसे और सांवलिया जी के आशीर्वाद से आ रहा है हमारा समय’- वसुंधरा राजे

किसानों का जिक्र करते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि, ‘आज देश में किसानों के हित में सोच रखने वाला सिर्फ एक नेता है प्रधानमंत्री नरेंद मोदी. किसानों को सस्ती खाद मिले, फसल बीमा का लाभ मिले, उपज का मूल्य मिले ये काम सिर्फ नरेंद्र मोदी ने किया’. नड्डा ने कहा कि, ‘सपा की सरकार में माफियाराज था और अब ये माफिया प्रदेश से पलायन कर रहा है. अब न तो यहां गुंडागर्दी होती है और न ही माफिया रह गए हैं और इन माफियाओं को कुचलने का काम सीएम योगी ने किया है’.

तो वहीं बूथ सम्मलेन को संबोधित करते हुए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश के साथ साथ ओवैसी पर भी जमकर निशाना साधा. सीएम योगी ने कहा कि, ‘उत्तरप्रदेश में पहले हर तीसरे-चौथे दिन दंगे होते थे, लेकिन अब उत्तर प्रदेश दंगा नहीं, दंगामुक्त प्रदेश की पहचान के तौर पर अग्रसर है. लेकिन मैं इस अवसर पर चचाजान और अब्बाजान के अनुयायीयों से कहूंगा कि वे सावधान होकर सुन लें, अगर प्रदेश की भावनाओं को भड़का कर माहौल खराब करोगे, तो फिर सख्ती के साथ सरकार निपटना जानती है.’ सीएम योगी का यह बयान उस वक़्त आया जब असदुद्दीन ओवैसी ने सोमवार को बाराबंकी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘अगर सरकार NPR और NRC कानून लाएगी तो हम एक और नया ‘शाहीन बाग’ खड़ा कर देंगे.’

यह भी पढ़े: मायावती का मिशन यूपी, फोल्डर के जरिये जनता के बीच उतरेगी बसपा, 84 सीटों के लिए बनाई रणनीति

सीएम योगी ने सम्मलेन को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘आजादी के बाद परिवारवादी लोगों की सोच बढ़ने लगी है, जातिवादी सोच के लोगों ने, वंशवादी सोच के लोगों ने न केवल सामाजिक ताने-बाने को छिन्न-भिन्न किया, बल्कि अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस क्षेत्र के विकास को भी बाधित करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी थी.’ सीएम योगी ने अपने संबोधन में कहा कि ‘आज मैं यहां पर उस व्यक्ति को चेतावनी देने चाहता हूँ जो यहां पर CAA के नाम पर फिर से भावनाओं को भड़काने का काम कर रहा है. प्रदेश की जनता जानती है कि ओवैसी समाजवादी पार्टी का एजेंट बनकर प्रदेश में प्रवेश कर चुका है.’

आगामी चुनाव के मद्देनजर केंद्र सरकार ने पिछले एक साल से आंदोलनरत किसानों की बात सुनकर तीनों कृषि कानून वापस लेने का फैसला भले ही कर लिया हो. लेकिन अब देश के कई हिस्सों से CAA, NRC और NPR जैसे कानूनों को भी वापस लेने की आवाज उठने लगी है. इसी कड़ी में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अपने बाराबंकी दौरे के दौरान एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि ‘अगर सरकार NPR और NRC कानून लाएगी तो हम एक और नया ‘शाहीन बाग’ खड़ा कर देंगे.’ ओवैसी के इस बयान के बाद बीजेपी उनपर हमलावर हो गई है.

Leave a Reply