ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते प्रदेश की स्थिति बदतर क्यों? बेवकूफ वाले बयान पर CM गहलोत पर भड़के राठौड़

सीएम गहलोत के ‘बेवकूफ’ वाले बयान पर राजेंद्र का राठौड़ीवार- 'अंतर्कलह से जूझती कांग्रेस सरकार के महान नेताओं को उनके ज्ञानवान मुख्यमंत्री जी हो मुबारक, लेकिन ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते हुए आज राजस्थान की स्थिति क्यों है बदतर?

0
ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते प्रदेश की स्थिति बदतर क्यों?
ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते प्रदेश की स्थिति बदतर क्यों?
Advertisement2

Politalks.News/Rajasthan. प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था एवं दलित अत्याचार में होती वृद्धि को लेकर प्रदेश की गहलोत सरकार लगातार विपक्ष के निशाने पर है. हनुमानगढ़ की तुलना लखीमपुर से करने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा प्रदेश भाजपा नेताओं को लेकर दिया गया ‘बेवकूफ’ वाले बयान को लेकर विपक्ष लगातार हमलावर है. इसी सिलसिले में विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने अतिज्ञानी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भाजपा में तो सब मूर्ख है पर आप जैसे ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते हुए आज राजस्थान की स्थिति बदतर क्यों है ? वहीं प्रदेश में जारी बिजली संकट को लेकर राठौड़ ने कहा कि देश में सबसे महंगी बिजली राजस्थान में है और प्रदेश के मौजूदा बिजली संकट के लिए आपकी सरकार ही पूर्णतः जिम्मेदार है.

प्रदेश भाजपा लगातार प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था, बढ़ते अपराध एवं दलित अत्याचार को लेकर गहलोत सरकार पर हमलावर है. बिगड़ती कानून व्यवस्था राज्य की गहलोत सरकार के लिए भी चिंता का विषय बना हुआ है. वहीं हनुमानगढ़ की तुलना लखीमपुर से करने के मामले में भाजपा की बयानबाजी पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने तीखा पलटवार किया था जिसके बाद विपक्ष एक के बाद एक बयानों के साथ सीएम गहलोत पर निशाना साध रही है. राजस्थान विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सबसे ज्यादा ज्ञानवान मुख्यमंत्री बताते हुए तंज कसा.

यह भी पढ़े: BJP में सीएम पद के दावेदार पदाधिकारी कर रहे मुर्खता, मोदी-शाह को आना चाहिए हनुमानगढ़- गहलोत

उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने सीएम गहलोत ने पलटवार करते हुए ट्वीट कर कहा कि ‘अतिज्ञानी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी, भाजपा में तो सब मूर्ख है पर आप जैसे ज्ञानवान मुख्यमंत्री के होते हुए आज राजस्थान की स्थिति बदतर क्यों है ? अंतर्कलह से जूझती कांग्रेस सरकार के महान नेताओं को उनके ज्ञानवान मुख्यमंत्री जी मुबारक हो.’ राठौड़ ने कहा कि ज्ञानवान मुख्यमंत्री जी, जरा गौर फरमाएं कि आपके राज में NCRB के अनुसार दुष्कर्म के मामलों में राजस्थान देश में पहले स्थान पर है, अनुसूचित जनजाति के खिलाफ अपराधों में दूसरे तथा अनुसूचित जाति के खिलाफ तीसरे स्थान पर है.

राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि CMIE की रिपोर्ट के अनुसार सितंबर में राजस्थान में बेरोजगारी दर 17.9% है यानी देश में राजस्थान दूसरे स्थान पर है. ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल रिपोर्ट में प्रदेश के 64 % नागरिकों ने स्वीकारा की आपकी सरकार में बिना रिश्वत के कोई काम नहीं होता. पेट्रोल डीजल का जिक्र करते हुए राठौड़ ने कहा कि पेट्रोल-डीजल पर सर्वाधिक वैट क्रमशः 36% व 26% राजस्थान में है तथा बजटीय घोषणाएं कागजों से बाहर धरातल पर कहीं नहीं दिख रही है.

यह भी पढ़े: गुड़ खाकर गुलगुले खाने से परहेज कर रहे रागा! सब चाहते हैं राहुल बने अध्यक्ष लेकिन कहां अटकी बात..!

बिजली संकट एवं महंगी बिजली को लेकर राठौड़ ने कहा कि ज्ञानवान मुख्यमंत्री जी आपके राज में देश में सबसे महंगी बिजली राजस्थान में है और प्रदेश के मौजूदा बिजली संकट के लिए आपकी सरकार ही पूर्णतः जिम्मेदार है. आप कोयले की कमी के लिए भारत सरकार को दोषी मान रहे हो लेकिन आपने पूरे साल कोयला खरीदा नहीं और 600 करोड़ रुपये भी बकाया है.

दरअसल राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कल सचिवालय में मीडिया को दिए अपने बयान में कहा था कि ‘बीजेपी में मूर्ख लोग मुख्यमंत्री के दावेदार बन रहे हैं, उन बेवकूफों को घटना की वास्तविकता पता नहीं है’. देश में बेवकूफों की कमी है क्या ? बीजेपी के नेता देश में बेवकूफी कर रहे हैं. बीजेपी वालों में इतना सा सेंस नहीं है कि हनुमानगढ़ की घटना अलग है और उत्तर प्रदेश के लखीमपुर की घटना अलग है. भाजपा दोनों की तुलना कैसे कर सकती है’.

Leave a Reply