शायराना पॉलिटिक्स: राहुल गांधी के ट्वीट पर शिवराज का जवाब और कमलनाथ-पटवारी का उसी अंदाज में पलटवार

शायराना अंदाज में दिखे राहुल, शिवराज, कमलनाथ और जीतू पटवारी, प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन में चीन का जिक्र तक न करने पर हुआ बवाल, कांग्रेस ने तीखे अंदाज में किए वार

0
शायराना पॉलिटिक्स
शायराना पॉलिटिक्स

पॉलिटॉक्स न्यूज/एमपी. लगता है विवादित, जोशीले और भड़काऊ बयानों से अब राजनीति भी बोर होने लगी है इसलिए अब शायराना पॉलिटिक्स का दौर अपने जोरों पर है. तीखी बयानबाजी की जगह बड़े नेतागण सोशल मीडिया पर शायराना अंदाज में एक दूसरे पर वार और पलटवार करते दिख रहे हैं. ऐसा ही कुछ देखने को मिला राहुल गांधी के ट्वीट के बाद मध्य प्रदेश की राजनीति में जब पीएम मोदी पर राहुल गांधी के शायराना अंदाज में किए वार का जवाब मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शायराना अंदाज में ही दिया. यहीं नहीं इसके बाद इसी शायराना अंदाज में कांग्रेसी नेता कमलनाथ अपने नेता का बचाव करते नजर आए, जिसका जवाब भी शिवराज सिंह उसी शायराना अंदाज में ही दिया. इस कड़ी में पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भी पीएम मोदी पर शायराना निशाना साधा. आइए आपको बताते कैसे शुर हुई यह शायराना पॉलिटिक्स…..

हुआ कुछ यूं कि मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर तक बढ़ाने की घोषणा की. हालांकि उनके संबोधन से पहले जिस तरह गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट कर जनता से उनका संबोधन सुनने की अपील की थी, लग रहा था कि प्रधानमंत्री भारत-चीन सीमा विवाद या पेट्रोल-डीज़ल कीमतों या फिर आसमान छूती महंगाई को लेकर कोई बड़ा ऐलान करेंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. पीएम मोदी ने गरीब कल्याण योजना का ऐलान करने के तुरंत बाद अपना भाषण समाप्त कर दिया.

यह भी पढ़ें: ‘तू इधर उधर की बात न कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा’- राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी से पूछा सवाल

इसके बाद राहुल गांधी ने तंज कसते हुए पीएम मोदी के लिए ट्वीटर पर लिखा, ‘तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा, मुझे रहज़नों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है.’ कहने का मतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन में चीन का जिक्र न उठाने को लेकर राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में उन पर निशाना साधा.

कांग्रेसी नेता राहुल गांधी के शायराना बयान पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कुछ इसी अंदाज में उन्हें जवाब दिया. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा, ‘यूं ही दिल खोलकर आप बात करें, कभी अपनों से भी सवाल करें. आपको रहजनों से गिला है तो अपने यार रहजनों से भी तो कुछ सवाल करें.’

अब एमपी की राजनीतिक में शायराना हलचल हो और कमलनाथ का नाम न आए, ऐसा कैसे हो सकता है. शिवराज सिंह के ट्वीट के बाद प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने नेता राहुल गांधी का बचाव करते हुए शिवराज सिंह काे जवाब दिया और शायराना चुटकी लेते हुए ट्वीटर पर लिखा- ‘यार रहजनों से आपने भी तो खूब यारी निभाई है, जा-जाकर उनके आगे खूब झोलियां फैलाई हैं, उनकी तारीफों में भी जी भरकर कसीदे गढ़े हैं, आज अपनों से सवाल की हिम्मत नहीं है आपमें इसलिए क्या खूब पलटी खाई है आपने.’

कमलनाथ के ट्वीट पर शिवराज सिंह ने फिर से फिर से इशारों इशारों में पलटवार करते हुए कमलनाथ पर उसी अंदाज में निशाना साधा. शिवराज सिंह ने लिखा, ‘आये थे आप हमदर्द बनकर, रह गये केवल राहज़न बनकर, पल-पल राहज़नी की इस कदर आपने, आपकी यादें रह गईं दिलों में जख्म बनकर.’

शायराना पॉलिटिक्स में नई नई एंट्री ली एमपी के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने, जिन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा. ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, ‘चीन की जगह.. चना पर बात कर गये..मैप की जगह.. ऐप्प पर खेल कर गये.. वाह मोदी जी वाह।।’

राजनीति में पैठ बनाता जा रहा शायराना पॉलिटिक्स का ये अंदाज नेताओं को खूब रास आ रहा है. वार-पलटवार का ये सिससिला धीरे धीरे जोर पकड़ता जा रहा है.

Leave a Reply