हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए सभी जिलों में बनेंगे कोविड केयर सेंटर्स, प्रदेश में एक दिन में 12 की मौत

सेंटर का चयन आबादी से दूर किया जाएगा और वहां सभी आवश्यक सुविधाएं भोजन, बिजली, पानी, पंखे-कूलर, वाटर कूलर आदि की व्यवस्था भी की जाएगी ताकि मरीज को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े, प्रदेश में मंगलवार को 97 नए केस आए सामने

0
कोविड केयर सेंटर्स
कोविड केयर सेंटर्स

पॉलिटॉक्स न्यूज़/राजस्थान. मंगलवार को प्रदेश में 97 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए वहीं एक ही दिन में सर्वाधिक 12 मरीजों की मौत हो गई. बीते दिन एक बार फिर से जोधपुर में सर्वाधिक 41 नए पॉजिटिव केस सामने आए तो जयपुर में 6, जोधपुर और कोटा में 3-3 लोगों की मौत हो गई. प्रदेश में बढ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोविड संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए प्रदेश में एडवांस प्लानिंग पर काम करना शुरू कर दिया है. इसी के मद्देनजर आने वाले दिनों में प्रदेश के सभी जिलों में आवश्यकता के अनुसार 500 या 1 हजार बैडेड की क्षमता वाले कोविड केयर सेंटर बनाए जाएंगे.

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि इन दिनों लगभग 70 प्रतिशत पाॅजिटिव केसे में या तो हल्के लक्षण या लक्षण ही नहीं पाए जा रहे हैं. ऐसे केसेज की देखभाल के लिए प्रत्येक जिले में कोविड केयर सेंटर बनाए जाएंगे. इस बारे में विस्तृत गाइड लाइन भी जारी कर दी गई है. मंत्री शर्मा ने आगे बताया कि शुरुआत में 30 हजार बैडेड की व्यवस्था की जाएगी और फिर जरूरत के अनुसार इसे 50 हजार बैड तक पहुंचाया जा सकता है.

जानकारी देते हुए मंत्री रघु शर्मा ने आगे बताया कि सभी जिलों में कोविड केयर सेंटर का चयन और प्रबंधन का जिम्‍मा संबंधित जिला कलक्‍टर को दिया गया है. कलक्टर द्वारा समिति का गठन किया जाएगा, जिसमें जिला कलक्टर, चिकित्सा विभाग, लेखा शाखा, नगर निगम या नगर पालिका या पंचायत समिति का प्रतिनिधि शामिल होगा. यह समिति सेंटर से जुड़े तमाम कार्यों का संपादन करेगी.

रघु शर्मा ने आगे बताया कि सेंटर का चयन आबादी से दूर किया जाएगा और वहां सभी आवश्यक सुविधाएं भोजन, बिजली, पानी, पंखे-कूलर, वाटर कूलर आदि की व्यवस्था भी की जाएगी ताकि मरीज को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. सेंटर पर व्यक्तियों के प्रवेश और निकास के लिए एक ही एंट्री गेट रखा जाएगा, ताकि संपूर्ण व्यवस्था पर निगरानी रखी जा सके और संक्रमण को फैलने से रोका जा सके.

कोविड केयर सेंटर्स पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मुख्य स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे ताकि हर जगह की निगरानी की जा सके. इसके अलावा माइकिंग की भी व्यवस्था की जाएगी. इन सभी सेंटर्स पर चिकित्सक कक्ष, सैंपल कलेक्शन, दवा स्टोर, चिकित्सकों के चेंजिंग रूम की भी व्यवस्था की जाएगी ताकि मरीज को किसी परेशानी का सामना ना करना पड़े. ये सभी सेंटर पर विषय विशेषज्ञों से जरूरत पड़ने पर टेली कंसलटेंसी के जरिए भी इलाज किया जा सकेगा.

बता दें, प्रदेश के 29 जिलों में अब तक कोरोना का संक्रमण फैल चुका है. प्रदेश में मंगलवार को देर रात तक जयपुर में 1047, जोधपुर-762, कोटा-221, अजमेर-177, टोंक-136, नागौर-119, भरतपुर-115, चित्तौढगढ-99, बांसवाडा-66, झुंझुनू और झालावाड में 42-42, भीलवाडा-39, बीकानेर-38, जैसलमेर-35, पाली-28, दौसा-21, उदयपुर और धौलपुर में 15-15, चुरू-14, अलवर-13, हनुमानगढ-11, सवाई माधोपुर-8, डूंगरपुर और सीकर में 7-7, राजसमंद-5, प्रतापगढ-4, करौली और बाडमेर में 3-3, बांरा-1 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ चुका है.

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी की अभिजीत बनर्जी से चर्चा पर बोले गहलोत- ‘आर्थिक चुनौतियों पर चर्चा करना सार्थक तरीका’

मंगलवार को कोरोना संक्रमण के चलते राजधानी जयपुर में 6, जोधपुर और कोटा में 3-3 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई. जयपुर के 55 वर्षीय खाजपुरा दूदू निवासी व्यक्ति , 38 वर्षीय बासबदनपुरा निवासी व्यक्ति, 50 वर्षीय बासबदनपुरा निवासी व्यक्ति, 61 वर्षीय बडी चौपड निवासी महिला, 30 वर्षीय शिवनगर मुरलीपुरा सी स्कीम निवासी महिला, 20 वर्षीय जालुपुरा निवासी महिला की मौत हो गई. इसके साथ ही कोटा के श्रीपुरा निवासी 54 वर्षीय व्यक्ति, 47 वर्षीय लाडपुरा निवासी व्यक्ति, 48 वर्षीय गुमानपुरा निवासी महिला और जोधपुर में 55 वर्षीय खेतानाडी लाल बंगला निवासी व्यक्ति, 52 वर्षीय घंटानगर निवासी व्यक्ति, 57 वर्षीय दर्पण सिनेमा निवासी व्यक्ति की मौत हो गई. इस तरह जयपुर में कोरोना से अब तक 50 और जोधपुर में 14 और कोटा में 9 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं प्रदेश में अब कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 89 पहुंच गया है.

गौरतलब है कि जोधपुर और जैसलमेर में ईरान से रेस्क्यू कर लाये गये भारतीयों में से 61 पॉजिटिव केस सामने आ चुके है. इसके अलावा जयपुर में इटली के 2, इन सभी को मिलाकर अब तक प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3158 वहीं प्रदेश में 12 ओर संक्रमित मरीजों की मौत हो जाने से अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या बढकर 89 हो चुकी है. प्रदेश में अब तक सामने आए 3158 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 1525 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके है जिनमें से 1120 को डिस्चार्ज किया जा चुका है.

Leave a Reply