SDM को जूते मारकर सही कर दूंगा…! भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, नतमस्तक दिखे अफसर

'जूता मार' विधायक का वीडियो वायरल, यूपी सीतापुर के बीजेपी MLA शशांक त्रिवेदी के बिगड़े बोल, कहा- SDM को जूते से मारूंगा... सही कर देंगे, अतिक्रमण हटाने के दौरान गिराया था दिव्यांग का घर, अब अफसर की आई सफाई, खादी के सामने नतमस्तक अफसरशाही!, पहले भी सांसद को बता चुके हैं भौजाई

0
SDM को जूते मारकर सही कर दूंगा...!
SDM को जूते मारकर सही कर दूंगा...!
Advertisement2

Politalks.News/Uttarpardesh. उत्तरप्रदेश के सीतापुर में महोली से भाजपा विधायक शशांक त्रिवेदी का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में भाजपा विधायक एसडीएम को जूतों से मारने की बात कहते नजर आ रहे हैं. भाजपा एमएलए शशांक त्रिवेदी एसडीएम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात भी वीडियो में कहते साफ सुनाई दे रहे हैं. बताया जा रहा है 4 सितंबर को शशांक त्रिवेदी महोली तहसील के पकरिया पांडेपुर पहुंचे थे, जहां पर एसडीएम की मौजूदगी में तहसील प्रशासन द्वारा दिव्यांग का मकान गिराया गया था. सूचना पाकर मौके पर पहुंचे विधायक ने खुद बैठकर दिव्यांग का मकान बनवाया था. बताया जा रहा है कि यह वीडियो 5 दिन पुराना है.

गरीबों का घर गिराने वाले SDM को मारेंगे जूते- शशांक
वायरल वीडियो में विधायक त्रिवेदी लोगों के बीच में खड़े हैं और फोन पर अपशब्दों का प्रयोग कर रहे हैं. उनको वीडियो में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि गरीबों का घर गिराने वाले एसडीएम को जूतों से मारेंगे और उन पर एफआईआर भी दर्ज कराएंगे.

खादी के सामने नतमस्तक अफसर!
उधर, विधायक का वीडियो वायरल होने के बाद एसडीएम महोली पंकज राठौर का बयान भी सामने आया है. SDM ने जिस प्रकार से अपनी सफाई जाहिर की है, उससे साफ तौर पर दिख रहा है कि खादी के आगे किस तरह से अधिकारी नतमस्तक हुए हैं. एसडीएम महोली पंकज राठौर का कहना है कि, ‘विधायक जी के बारे में मैं यही समझ पा रहा हूं कि उनको गलत जानकारी मिली थी. उनकी भावनाएं आहत हुई, मैं उनकी भावनाओं का सम्मान करता हूं. एसडीएम महोली के द्वारा जारी बयान में जिस सम्मान की बात कही जा रही है तो बीजेपी विधायक शशांक त्रिवेदी के बयानों को सुने तो वह एसडीएम महोली को जूते मारने की बात फोन पर कर रहे हैं. इतना ही नहीं, एसडीएम महोली के खिलाफ FIR लिखाने की बात भी कह रहे हैं.

यह भी पढ़े: सैफई परिवार में चाचा की घर वापसी को भतीजे की हरी झंडी का इंतजार, ‘सम्मान’ पर अटकी बात

अपशब्दों का प्रयोग ठीक नहीं- SDM
अब जूते मारने की बात करने वाले बीजेपी विधायक की बात को एसडीएम महोली किस प्रकार की भावनाओं को समझ रहे हैं, यह तो खुद एसडीएम महोली ही बता सकते हैं. हालांकि एसडीएम महोली का कहना है कि, ‘अपशब्दों का प्रयोग किसी भी तरह का संवैधानिक अधिकार नहीं हैं’. आपको बताते चलें कि एसडीएम महोली पंकज कुमार राठौर ने ग्राम समाज की जमीन पर दिव्यांग द्वारा किए गए कब्जे को हटवाया था. इसी दौरान बीजेपी एमएलए शशांक त्रिवेदी अपने गुर्गों के साथ पहुंचे थे. बीजेपी एमएलए शशांक त्रिवेदी ने इस कार्रवाई को लेकर एसडीएम महोली को अपशब्द कहा था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

यह भी पढ़े: ओवैसी का यूपी में चुनावी आगाज, कहा- 21% मुस्लिम और यादव 9%, अब हमें खैरात नहीं, चाहिए हिस्सेदारी

विधायक के पहले भी सामने आ चुके बिगड़े बोल
दरअसल, महोली विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक शशांक त्रिवेदी अकसर विवादों में रहते हैं. पिछले साल क्षेत्र पंचायतों की वार्षिक बैठक के दौरान उन्‍होंने एक महिला सांसद को शायराना अंदाज में भौजाई कह कर पुकारा था, जिस पर सांसद ने उन्‍हें जमकर मर्यादा का पाठ पढ़ाया था और कहा था कि ‘मैं आपकी भौजाई नहीं बड़ी बहन
हूं.’

Leave a Reply