‘क्या यूपी के हाथी इतने बेअक्ल होते है?’

सोशल मीडिया पर आज की हलचल

0

जयपुर में बसपा के प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर मंगलवार को हुआ घटनाक्रम आज सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. सभी सोशल मीडिया पर ये घटनाक्रम ही चर्चा का विषय बना रहा. हुआ कुछ यूं कि प्रदेश की गहलोत सरकार में 6 बसपा विधायकों के शामिल हो जाने का दंश मायावती अब तक नहीं भूल पाई है. बीते दिनों बसपा कार्यालय में बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच लात घूंसे चलते के बाद उन्होंने प्रदेश कार्यकारिणी भंग कर दी. इसी संबंध में आज फिर प्रदेश कार्यालय में पार्टी के नेशनल कोऑर्डिनेटर रामजी गौतम और राज्य इकाई के प्रभारी सीताराम के साथ दो पदाधिकारी भी पहुंचे. उनके यहां पहुंचते ही स्थानीय कार्यकर्ताओं ने उन पर भ्रष्टाचार और मनमानी करने का आरोप लगाते हुए उनके मुंह पर काली स्याही पोती और दोनों को गधे पर बिठा जूतों की माला पहनाकर उनका जुलूस निकाला. इस दौरान अन्य दो पदाधिकारियों के खिलाफ भी कार्यकर्ताओं ने जमकर नारे लगाए.

बड़ी खबर: बसपा नेताओं को गधे पर बैठाया, पहनाई जूतों की माला

इस घटनाकांड के बाद बसपा चीफ ने कांग्रेस पर निशाना साधा और इशारों इशारों में कहा कि ये सभी प्रदेश सरकार के कहने पर हुआ. इस बारे में उन्होंने दो ट्वीट भी किए. अपने पहले ट्वीट में मायावती ने मायावती ने पार्टी के नेशनल कोर्डिनेटर रामजी गौतम और राज्य इकाई के प्रभारी सीताराम के साथ हुए घटनाक्रम को अति-निन्दनीय बताया.

दूसरे ट्वीट में मायावती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को अपनी ऐसी घिनौनी हरकतों से बाज़ आ जाना चाहिए.

अब मायावती के ट्वीट पर सोशल यूजर्स के कमेंट आने शुरू हो गए हैं. कमेंट में यूजर्स ने मायावती को ट्रोल करना शुरू कर दिया है.

एक यूजर ने कहा कि क्या यूपी के हाथी इतने बेअक्ल हो गए हैं.

वहीं एक यूजर ने कहा, ‘मोदी का जूता और सोनिया गांधी का सैंडल खाने के बजाए अपने पैर को मजबूत करने की जरूरत है.’

एक अन्य यूजर ने कहा कि बहन जी हमेशा यही बकवास,,, करतीं तो कुछ नहीं हैं. एक बार आप MP में समर्थन खींच के तो देखिए.

एक अन्य यूजर ने कहा कि रस्सी जल जाएगा, लेकिन ऐंठन नहीं जाएगा। कांग्रेस मरणासन पर है, लेकिन बसपा पर प्रहार करना नहीं छोड़ रही है.

Leave a Reply