सरकार के साथ वार्ता रही विफल, अपनी मांग पर अडिग किरोड़ी मीणा का धरना जारी, राठौड़ और शर्मा भी पहुंचे

सरकार के प्रतिनिधि मंत्री राजेंद्र यादव के साथ डॉ किरोड़ी लाल की हुई वार्ता, केंद्रीय मंत्री भारत सरकार के मंत्री संजीव वलियान भी पहुँचे धरना स्थल, सुरेश ढाका को पकड़ना नहि चाहती सरकार, ढाका पकड़ा तो सरकार के मंत्री, विधायक, अफ़सरों के नाम होंगे उजागर, ढाका की वेनामी सम्पत्ति ओर पेपर लीक में शामिल परिवारज़नो पर होती कार्रवाई तो गिरफ़्त में होते ढाका- किरोड़ी लाल मीण

img 20230125 wa0252
img 20230125 wa0252

Kirori Lal Meena’s Protest Continues on CBI Inquiry of Paper Leak. पेपर लीक प्रकरण की सीबीआई जांच सहित बेरोजगार युवाओं की अन्य मांगों को लेकर दिग्गज बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा का धरना आगरा रोड घाट की गुंणी के पास दूसरे दिन भी जारी रहा. हालांकि बुधवार को वार्ता के लिए सरकार की ओर से प्रस्ताव आया. इसके बाद राजस्थान राज्य पशु धन प्रवधन एवं प्रशिक्षण संस्थान भवन में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री राजेंद्र यादव, कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव, आईपीएस अजय पाल लाम्बा के साथ सांसद किरोडी लाल मीणा और प्रतिनिधिमंडल की वार्ता हुई. लेकिन दूसरे दौर की वार्ता भी विफल रही, जिसके कारण सांसद किरोड़ी मीणा वापस धरनास्थल पर लौट गए और धरना जारी रखने का एलान किया. अपनी मांग को दोहराते हुए सांसद मीणा ने कहा कि जब तक सरकार पेपर लीक प्रकरण की सीबीआई जांच समेत चार मांगों को पूरा नहीं करती, उनका धरना जारी रहेगा.

आपको बता दें कि सांसद किरोड़ी लाल मीणा के साथ इस दौरान वरिष्ठ भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ भी मौजूद रहे. किरोडी लाल मीणा ने कहा कि आए दिन पेपर लीक हो रहे हैं और बेरोजगारों के साथ अन्याय हो रहा है. लेकिन सरकार कोई कार्यवाही नहीं कर रही है. गहलोत सरकार पर आरोप लगाते हुए किरोड़ी मीणा ने कहा कि खानापूर्ति कर बड़े मगरमच्छों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है. इस दौरान राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने रीट, एसआई, जेईएन, कांस्टेबल , वरिष्ठ अध्यापक, आरएएस आदि दर्जनों परीक्षा के पेपर लीक पर बिंदुबार बात रखी. वहीं सांसद किरोड़ी मीणा ने कहा कि एसओजी के भ्रष्ट अधिकारी मोहन पोसवाल पर अब तक कार्यवाही क्यों नहीं कर पा रही सरकार? सांसद मीणा ने कहा किे अगर पोसवाल पर जल्द कार्यवाही नहीं की तो पैसे लेकर मुजरिमों को छोड़ने का बड़ा खुलासा करूंगा.

यह भी पढ़ें: किरोड़ी मीणा की दो टूक- CBI जांच के आदेश के बाद ही होगा धरना समाप्त, किसे बचा रही गहलोत सरकार?

कौन बचा रहा है सुरेश ढाका को?
वहीं शिक्षक भर्ती परीक्षा के पेपरलीक कांड के मुख्य सरगना सुरेश ढाका को गहलोत सरकार के संरक्षण का आरोप लगाते हुए सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि सुरेश ढाका का नाम हर पेपर लीक में होने के बाबजूद उन्हें कौन बचा रहा है? सरकार उस पर कार्यवाही नहीं कर रही है? अधिगम कोचिंग भगवती देवी के नाम रजिस्टर थी सरकार ने भगवती देवी से क्यों पूछताछ नहीं की? मीणा ने कहा कि सुरेश ढाका के पिता मांगीलाल सरपंच से पूछताछ नहीं की. गहलोत सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए सांसद किरोड़ी मीणा ने कहा कि सरकार सुरेश को पकड़ना ही नहीं चाहती हैं क्यों कि ढाका पकड़ा गया तो तो वो सरकार के मंत्री, विधायक, सरकारी अधिकारियों का नाम उजागर कर देगा.

Patanjali ads

यह भी पढ़ें: डबल लॉक से प्रश्नपत्र चोरी हुआ और चाबी का डाकू अभी भी भाग रहा है- BJP ने घेरा गहलोत सरकार को

हालांकि, सांसद किरोड़ी लाल मीणा के आरोपों पर सरकार की तरफ से बातचीत के लिए पहुंचे मंत्री राजेंद्र यादव ने सरकार की तरफ से ठोस कार्यवाही करने का आश्वासन दिया. लेकिन सांसद किरोड़ी मीणा ने कहा कि सरकार के मंत्री और अफसर भी इस प्रकरण में शामिल है. ऐसे में आप कार्रवाई नहीं कर पाएंगे, तो इस पर मंत्री यादव ने कहा कि यह बच्चों के हित का मामला है ऐसे में सरकार इसके प्रति सख्त है. मंत्री राजेन्द्र यादव ने कहा कि इस संबंध में सीएम साहब को अवगत करा कर तत्काल निर्णय लिया जाएगा.

वार्ता से संतुष्ट नहीं हुए सांसद वापस धरने पर बैठे
लेकिन सरकार के प्रतिनिधमंडल के साथ वार्ता से संतुष्ट नहीं होने पर डॉक्टर किरोडी लाल धरना स्थल पर पहुंचे वहां पर वरिष्ठ भाजपा नेता रामलाल शर्मा और राजेन्द्र राठौड़ भी मौजूद रहे. कुछ देर बाद मंत्री राजेन्द्र यादव धरना स्थल पर ही पहुँच गए. यहां पर कुछ समय बाद क़रीब शाम चार बजे केंद्रीय मंत्री भारत सरकार संजीव बालियान भी पहुँचे. इस मौक़े पर बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे. बेरोजगारों ने सरकार के खिलाफ नारेबाज़ी करने लग गए. इसी दौरान राजेंद्र यादव ने ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया.

यह भी पढ़ें: जाजड़ा ने क्यों मारा निर्मल को थप्पड़, कहा- गाली का जवाब गाली और हथियार का जवाब मिलेगा हथियार से

आपको बता दें कि बीते रोज मंगलवार को दिग्गज बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा लगभग 10 हजार गाड़ियों के काफिले और हजारों समर्थकों के साथ दौसा से जयपुर विधानसभा घेराव के लिए पहुंचे थे. हालांकि सांसद मीणा के काफिले को पुलिस ने घाट की गुणी के पास रोक लिया था. इस दौरान जयपुर आगरा हाईवे पूरी तरह जाम हो गया था. जिसके बाद जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे और सांसद किरोड़ी लाल मीणा से बातचीत की. जिसके बाद देर रात मीणा ने जयपुर-आगरा हाईवे को आम जनता के लिए खोल दिया था, लेकिन बड़ी संख्या में समर्थकों के साथ धरना जारी रखा.

Leave a Reply