ओवैसी की पार्टी के नेता के विवादित बोल- ‘कोरोना तो केवल बहाना, मुसलमानों को नपुंसक है बनाना’

फैजल दावा कर रहा है कि उनके पास पर्याप्त सबूत हैं कि कोरोना का तो केवल बहाना है, वास्तव में सरकार और डॉक्टर मिलकर मुस्लिम महिलाओं को ऐसा इंजेक्शन दे रहे हैं, जिनसे उनके बच्चे न हों और मुस्लिम आबादी न बढ़े

0
अबु फैजल
अबु फैजल

पॉलिटॉक्स न्यूज. बीते एक दो दिनों से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक शख्स कह रहा है कि कोरोना तो केवल एक बहाना है, असल में मुसलमानों को नपुंसक बनाना है. वीडियो में चिल्ला चिल्लाकर एक आदमी कोरोना संक्रमितों और समुदाय विशेष की महिलाओं को कह रहा है, ‘अस्पतालों में इलाज करने वाली नर्स का पहले नाम पूछो और इंजेक्शन मत लगवाओ. अगर जिद करे तो पहले इंजेक्शन उसे लगाओ और दवा उसे खिलाओ. अगर जबरदस्ती करे तो उसका हाथ तोड़ दो’. वीडियो को कई टुकड़ों में तोड़कर वायरल किया जा रहा है. वैसे इस गहन विकृत मानसिकता वाले शख्स का नाम है अबु फैजल, जो असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM का नेता है.

यह भी पढ़ें: ‘पीएम मोदी के प्रयासों को असफल करने वालों का कामयाब होना मुश्किल है’

वीडियो में फैजल दावा कर रहा है कि उनके पास पर्याप्त सबूत हैं कि कोरोना का तो केवल बहाना है. वास्तव में सरकार और डॉक्टर मिलकर मुस्लिम महिलाओं को ऐसा इंजेक्शन दे रहे हैं, जिनसे उनके बच्चे न हों और मुस्लिम आबादी न बढ़े. अपनी वीडियो में फैजल अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए समुदाय विशेष को सख्त तौर पर हिदायत दे रहे हैं कि वे किसी तरह का इंजेक्शन न लें और अगर कोई बार-बार बोले तो उसका हाथ तोड़ दें या फिर वो इंजेक्शन पहले उसके लगा दें. अन्य समुदाय विशेष को भी अभद्र भाषा में पुकारा गया है. वीडियो में फैजल ने आरएसएस पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं.

अपनी बात को साबित करने के लिए फैजल एक ऑडियो क्लिप चलाता है जिसमें एक व्यक्ति कह रहा है, ‘पहले मुसलमानों को पकड़ा जाता है, फिर मारा जाता है और बाद में बच्चों-बुजुर्गों को छोड़ दिया जाता है. इसके बाद जवानों को अपने साथ ले जाकर ऐसी दवा देते हैं, जिससे मुसलमान या तो नपुंसक हो जाता है या फिर धीरे-धीरे बीमार होकर मर जाता है’. हालांकि ये ऑडियो क्लिप किसकी है, इस बात का खुलासा नहीं हुआ है.

वीडियो में अबु फैजल कह रहा है कि कोरोना-शोरोना कुछ नहीं है बल्कि आरएसएस एक वायरस चला रहा है. उसने सारी मीडिया को एक काम पर लगा दिया गया है कि मु… और इ… को टारगेट करते रहो, ताकि देश का माहौल खराब हो सके और जो लोग गौ मूत्र पर अमल करते हैं, उनके जेहन में गौ-मूत्र चलता रहे. फैजल ने आरोप लगाया है कि इन्हीं सबके कारण मुसलमानों को कारोबार करने नहीं दिया जा रहा, कुछ बेचने नहीं दिया जा रहा, उन्हें कहीं आने-जाने पर भी रोक है. फैजल ने इन हालातों को सरकार की साजिश बताया है.

फैजल सभी समुदाय विशेष से एकत्रित होने और गौ मूत्र पीने वालों को सबक सिखाने की बात कह रहा है. फैजल धमकी भी दे रहा है कि रमजान हैं इसलिए वे शांत हैं और तमीज से बात कर रहे हैं, वरना पूरे भ..को फाड़कर रख दें.

गौरतलब है कि तब्लीगी जमात से निकले जमातियों के पूरे देश में फैलने के चलते कोरोना वायरस का जहर पूरे हिंदूस्तान में फैल गया है. जमाती मरकज के एक कार्यक्रम में शामिल होकर देशभर में फैल गए और अब हालात ये हैं कि अस्पतालों में शामिल हो रहे मरीजों में से आधे से अधिक समुदाय विशेष के लोग हैं. तब्लीगी जमात का मुखिया पहले लोगों को एक साथ रहने और साथ में नवाज अता करने की नसीयत दे रहा था लेकिन खुलासे और परिस्थितियां बिगड़ते देख अंडरग्राउड हो गया. क्राइम ब्रांच, ईडी और दिल्ली पुलिस उसकी तलाश कर रही है. उस पर गैर इरादतन हत्या और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप भी लगे हैं.

Leave a Reply