दिल्ली में शराब पर 70% वृद्धि के बाद पेट्रोल-डीज़ल भी हुआ महंगा, फिर भी दुकानों पर हुई तीन गुना भीड़

पेट्रोल 1.67 रुपये और डीजल 7.10 रुपये महंगा तो शराब पर लगा 70 फीसदी विशेष कोरोना शुल्क, दुकानों पर लगी लंबी लाइनें, छत्तीसगढ़ में शुरु हुई शराब की होम डिलीवरी

0
Delhi
Delhi

पॉलिटॉक्स न्यूज/दिल्ली. लॉकडाउन 3.0 का आज दूसरा दिन है और राजधानी दिल्ली सहित अन्य राज्यों और शहरों में शराब की करीब-करीब सभी दुकानें खुल गई हैं. कहीं सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन हो रहा है कहीं नहीं. शराब की दुकानें खुलते ही हर दुकान पर सैंकड़ों की संख्या में भीड़ ऐसे जुटने लगी है जैसे फ्री में कोई अमृत बंट रहा हो. इसी बीच दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने एक और बड़ा फैसला लेते हुए पेट्रोल और डीज़ल पर वैट बढ़ा दिया. दिल्ली में अब पेट्रोल 1.67 रुपये और डीजल 7.10 रुपये महंगा हो गया है. इससे पहले शराब पर दिल्ली सरकार ने 70 प्रतिशत ‘विशेष कोरोना शुल्क‘ लगा दिया. आंध्र प्रदेश में भी शराब की कीमतें बढ़ाई गई हैं जबकि छत्तीसगढ़ में होम डिलीवरी शुरु हुई है. दाम बढ़ाये जाने पर सरकार में मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कई बार कठिन निर्णय लेने पड़ते हैं.

वैसे तो ये दोनों मार उपभोक्ताओं पर ही पड़ी है लेकिन इसके बावजूद भी दुकानों पर पहले दिन के मुकाबले तीन गुनी भीड़ नजर आने लगी है. हालांकि सोशल डिस्टेन्सिंग की सरेआम धज्जियां उड़ते आसानी से देखा जा सकता है.

दिल्ली में शराब की दुकानों के बाहर लगी लंबी लाइन 01
दिल्ली में शराब की दुकानों के बाहर लगी लंबी लाइन 01

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी का पाक पर करारा वार, कहा- कोरोना संकट में भी कुछ लोग फैला रहे आतंकवाद रूपी वायरस

मंगलवार को राज्य सरकार ने पेट्रोल और डीजल दोनों पर ही वैट बढ़ाने का ऐलान किया. पेट्रोल पर तीन फीसदी वैट को बढ़ाकर 27 फीसदी से 30 फीसदी कर दिया गया है, जबकि डीजल पर वैट 16.77 फीसदी से बढ़ाकर 30 फीसदी कर दिया गया है. इसी के साथ दिल्ली में अब पेट्रोल की कीमत 71.26 प्रति लीटर हो गई है, जबकि डीजल की कीमत बढ़कर 69.29 प्रति लीटर हो गई है. बीते दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कहा था कि सरकार का अप्रैल का रेवेन्यू 3500 करोड़ रुपये से घटकर 300 करोड़ रुपये ही रह गया है. साफ है कि सरकार की कमाई पर पड़े असर का दंड अब आम जनता को भुगतना पड़ रहा है. इससे पहले सोमवार रात दिल्ली सरकार ने शराब की कीमतों पर 70 फीसदी दाम बढ़ा दिए हैं यानि अब शराब प्रिंट रेट से 70 फीसदी अधिक दाम पर मिलेगी. शराब पर लगे टैक्स को ‘स्पेशल कोरोना फीस‘ नाम दिया है।

शराब के इतने महंगे दामों पर बिकने के बाद भी दुकान से शराब खरीदने वालों की संख्या में कोई कमी नहीं हो रही. एक एक दुकान पर सैंकड़ों की संख्या में लोग लाइन में अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं. कई कई दुकानों पर तो यहां तक देखा जा रहा है कि सुबह 7 बजे से लाइन लगनी शुरु हो गई और दोपहर तक नंबर नहीं आया. कईयों को तो सोमवार को लाइन में घंटों लगने के बाद भी खाली हाथ ही लौटना पड़ा. बढ़ी शराब और पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों का किसी पर कोई फर्क नजर नहीं आ रहा.

02

गौरतलब है कि देश में पिछले 42 दिनों से लॉकडाउन चल रहा है. खाने पीने और जरूरी सेवाओं की दुकानों को छोड़कर सब कुछ बंद था. 21 अप्रैल के बाद कुछ छूट मिली और लॉकडाउन 3.0 के साथ ही सोमवार को रेड, आॅरेंज और ग्रीन तीनों ज़ोन में शराब की दुकानें खोलने की छूट केंद्र सरकार द्वारा दी गई. इसी के साथ दिल्ली सरकार ने शराब बिक्री पर टैक्स लगाते हुए कीमतों में 70 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी. कुछ घंटों बाद ही पेट्रोल डीज़ल भी महंगा कर दिया गया.

यह भी पढ़ें: भारत की पाक को चेतावनी- कश्मीर के साथ गिलगित-बाल्टिस्तान भी फौरन खाली करे पाकिस्तान

इस मामले पर केजरीवाल सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मनीष सिसोदिया ने बयान जारी कर बताया कि मुश्किल वक्त में कड़े फैसले लेने पड़ते हैं, वित्त मंत्री रहते हुए मैंने यही सीखा है. जिंदगी हमेशा ही शानदार नहीं होती. उनके अनुसार, कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से अर्थव्यवस्था पर पड़ते असर को देखते हुए दिल्ली सरकार ने ये फैसला लिया है.

03

सरकार के इस कदम से राजस्व में निश्चित तौर पर इजाफा होगा, जो कि कोरोना वायरस की वजह से देश में लगे लॉकडाउन से काफी प्रभावित हुआ है, लेकिन इससे खुदरा शराब की बोतल की कीमत में अधिक बढ़ोतरी होगी. सोमवार देर रात जारी अधिसूचना में दिल्ली सरकार के वित्त विभाग ने कहा, ‘रिटेल लाइसेंस के अंतर्गत बेचे जाने वाले सभी तरह के शराब के अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) पर 70 प्रतिशत टैक्स लगाया गया है.’ उदाहरण के लिए, अगर किसी शराब के बोतल की (एमआरपी) कीमत अभी तक 1000 रुपए है तो अब दिल्ली में उसकी नई कीमत 1700 रुपए होगी.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन 3.0: नए नियमों के साथ खुले दफ्तर, पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद, शराब की दुकानें शाम 6 बजे तक

सरकार को उम्मीद है कि शराब के दाम बढ़ाने से दिल्ली में शराब की दुकानों के बाहर लगने वाली लंबी कतारों में कमी आएगी. साथ ही सरकार को कोरोना संकट के दौरान अतिरिक्त राजस्व भी मिलेगा. हालांकि अभी के हालातों को देखते हुए कतारों में कमी तो देखते हुए नहीं दिख रही, हां तीन गुनी होते नजर जरूर आ रही है.

दिल्ली के अलावा कुछ अन्य राज्यों ने भी शराब के दामों में बढ़ोतरी की है. आंध्र प्रदेश सरकार ने शराब के दाम 20 रुपये से 80 रुपये तक बढ़ाए हैं. वहीं छत्तीसगढ़ में तो शराब की होम डिलीवरी शुरु कर दी गई है. इसके लिए बाकायदा एक बेवसाइट भी तैयार की गई है जहां आॅर्डर देकर शराब अब घर बैठे मंगवाई जा सकती है.

Leave a Reply