दर्दनाक और शर्मनाक खबर: कोरोना मरीजों के वार्ड में रखे हैं शव भी, आखिर मरीज जाए कहां?

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा एक वीडियो, मुंबई के सायन अस्पताल का बताया जा रहा है वायरल वीडियो, एक मीडिया चैनल के एंकर ने शेयर किया है वीडियो

0
Mumbai
Mumbai

पॉलिटॉक्स न्यूज. देश में कोरोना संकट और महामारी के जानलेवा प्रकोप से सभी अब तक अवगत हो चुके हैं. अस्पताल कोरोना के मरीजों से अटे हुए हैं और मरने वालों की संख्या भी रोके नहीं रूक रही. इसी बीच सोशल मीडिया पर एक दर्दनाक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक अस्पताल के वार्ड में एक ओर कोरोना के मरीजों का इलाज हो रहा है, वहीं दूसरी तरफ मरने वालों के शव पड़े हैं. वीडियो मुंबई के एक अस्पताल का बताया जा रहा है लेकिन जो मंजर वीडियो में दिख रहा है, वो बेहद दर्दनाक है.

एक मीडिया चैनल के एंकर ने इस वीडियो को शेयर किया है. बताया जा रहा है कि ये वीडियो मुंबई के सायन अस्पताल का है. यहां कोरोना मरीज़ों के साथ वार्ड में ही मरने वालों के शव भी रखे हैं. हालांकि शवों को प्लास्टिक जैकेट में पैक करके रखा गया है लेकिन कोरोना संक्रमितों के बीच में ही खुले आम ये शव रखे हुए हैं. वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि एक ओर मरीजों का इलाज हो रहा है और दूसरी तरफ ये शव बैड पर ही रखे हुए हैं.

यह भी पढ़ें: बीते 6 सालों में तेल पर टैक्स वसूली के आंकड़ा के आंकड़ों के साथ सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर किया आक्रामक प्रहार

अस्पताल प्रशासन के मुताबिक, 60 शवों की क्षमता वाले मुर्दाघर में केवल 15 कोरोना से मरने वालों के लिए हैं. मरने वालों की तादात ज्यादा है और परिवार मृतकों के शव लेने से इनकार कर रहे हैं. ऐसे में आखिर शवों को रखे तो रखे कहां. इन स्थितियों में जहां जगह मिल रही है, वहीं शवों को पैक करके रख दिया गया है.

अस्पताल की मजबूरी से इनकार नहीं किया जा सकता लेकिन ध्यान देने की बात ये है कि जिस बैड पर शवों को रखा जा रहा है, वो कोरोना मरीजों के लिए हैं. ऐसे में मरीजों के लिए अस्पताल में कोई जगह नहीं बचती. कोरोना के दिन-ब-दिन जिस तरह मरीज बढ़ते जा रहे हैं, उसे देखते हुए इस तरह के हालात किसी दयनीय स्थिति से कम नहीं हैं.

यह भी पढ़ें: आरोग्य सेतु एप पर उठ रहे सवालों पर मोदी सरकार ने दिया जवाब, एप को बताया सुरक्षित

काबिले गौर है कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 53 हजार के पार पहुंच गई है और ये महामारी अब तक 1800 लोगों की जान लील चुकी है. महाराष्ट्र में सबसे अधिक कोरोना मरीज हैं. गौर करने वाली बात ये है कि सबसे अधिक मरीजों वाले राज्यों में गुजरात दूसरे नंबर पर है लेकिन महाराष्ट्र के अस्पतालों में गुजरात से ढाई गुना से अधिक मरीज भर्ती हैं. महाराष्ट्र में 16758 कोरोना संक्रमित हैं और अब तक 651 लोगों की मौत बिमारी से हो चुकी है. अकेले मुंबई में 10 हजार से ज्यादा पॉजिटिव केस हैं. पुणे, थाने व नासिक सहित तीन शहरों में 4 हजार से ज्यादा कोरोना मरीज हैं. हालांकि अच्छी खबर ये भी है कि प्रदेश में 3100 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं लेकिन अभी भी 13 हजार से अधिक एक्टिव मरीज हैं.

Leave a Reply