घर वापसी के बाद बोले मुकुल रॉय- बीजेपी में हो रहा था शोषण, कोई नहीं रहेगा वहां, दीदी सबसे बड़ी नेता

जिन लोगों ने पैसा और पावर के लिए टीएमसी के साथ गद्दारी की, उन्हें पार्टी में नहीं लेंगे, सिर्फ उन्हीं लोगों के नाम पर विचार किया जाएगा, जो टीएमसी के प्रति सॉफ्ट रहे और गद्दारी नहीं की, मुकुल अच्छा लड़का है, उसे डरा, धमका कर और गुंडों और एजेंसियों की पार्टी बीजेपी डराकर ले गई थी- ममता बनर्जी

0
घर वापसी के बाद बोले मुकुल रॉय- दीदी सबसे बड़ी नेता
घर वापसी के बाद बोले मुकुल रॉय- दीदी सबसे बड़ी नेताq
Advertisement2

Politalks.News/WestBegalPolitics. कोरोना की दूसरी लहर के पूरी तरह थमने के पहले ही देश के कई राज्यों की सियासत गरमा गई है. वहीं पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के पहले से जारी शह और मात के इस सियासी खेल में तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी लगातार बीजेपी को बड़े झटके देती आ रही हैं. मुकुल रॉय की तृणमूल कांग्रेस में वापसी हो चुकी है. आज फिर बीजेपी को बड़ा झटका देते हुए ममता बनर्जी ने अपने पुराने सहयोगी मुकुल रॉय की घर वापसी करा ली है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुराने सहयोगी का स्वागत करते हुए मुकुल रॉय को अच्छा लड़का बताया और कहा कि मुकुल ने टीएमसी के साथ गद्दारी नहीं की. राजीव बनर्जी सहित टीएमसी के और बागियों के बीजेसी से वापसी के सवाल को ममता बनर्जी ने फिलहाल टाल दिया और कहा कि आने वाले समय में इस बारे में कुछ कह पाएंगी. वहीं घर वापसी के बाद मुकुल रॉय ने कहा कि बंगाल में जो स्थिति है, उसमें कोई बीजेपी में रहेगा नहीं. मुकुल ने यह भी कहा कि दीदी के साथ कोई मतभेद नहीं था और वह देश की सबसे बड़ी नेता हैं.

इस मौके पर टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने साफ कहा कि और भी बहुत सारे लोग टीएमसी में वापस आने वाले हैं. लेकिन, जिन लोगों ने पैसा और पावर के लिए टीएमसी के साथ गद्दारी की, उन्हें पार्टी में नहीं लेंगे. सिर्फ उन्हीं लोगों के नाम पर विचार किया जाएगा, जो टीएमसी के प्रति सॉफ्ट रहे और गद्दारी नहीं की. मुकुल रॉय को पार्टी में पद देने के सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि इस बारे में बाद में फैसला लिया जाएगा. आइडियोलॉजी और पार्टी बदलने के पत्रकारों के सवालों के जवाब में ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी से पूछिए कि वो हर पार्टी को क्यों तोड़ना चाहती है.

यह भी पढ़ें: उद्धव की पीएम मोदी से मुलाकात के बाद अब संजय राउत के बयान से गरमाई सियासत, कुछ तो गड़बड़ है!

ममता ने कहा, ”आप लोगों ने देखा कि लैंडस्लाइड विक्ट्री हासिल की. मुकुल अच्छा लड़का है, उसे डरा, धमका कर और एजेंसियों से डराकर बीजेपी ले गई थी, लेकिन उसे यहां वापस आकर मानसिक शांति मिलेगी. बीजेपी में बहुत अधिक शोषण है.” ममता ने मुकुल रॉय को क्लीनचिट देते हुए कहा, ”हमारा दल शक्तिशाली है, जिन लोगों ने हमारी पार्टी के साथ गद्दारी की, लेकिन मुकुल ने चुनाव के दौरान भी हमारे साथ गद्दारी नहीं की. जिन लोगों ने हमारी पार्टी के साथ गद्दारी की, उन्हें वापस नहीं लेंगे.”

मुकुल रॉय के पहले बीजेपी से टीएमसी में जाने और फिर वापसी को लेकर जब पत्रकारों ने विचारधारा पर सवाल उठाए तो ममता बनर्जी ने कहा, ”विचारधारा की बात ना करें, मुकुल रॉय ने पार्टी में वापसी की है, हम उनका स्वागत करते हैं. हम सबको संतुष्ट नहीं कर सकते हैं. हम बीजेपी की मीडिया को संतुष्ट नहीं कर सकते हैं. यह उनकी इच्छा है. बीजेपी आम लोगों की पार्टी नहीं है, यह गुडों और एजेंसियों की पार्टी है.”/ममता ने कहा कि बीजेपी में शोषण के बाद मुकुल को लगा कि उनकी पुरानी पार्टी ही अच्छी है, ओल्ड हज गोल्ड.

यह भी पढ़ें: मोदी-योगी के बीच तनातनी की वजह बने एके शर्मा को लेकर हुआ राजीनामा! बड़ी जिम्मेदारी मिलना तय

आपको बता दें कि चार साल पहले ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में गए मुकुल रॉय शुक्रवार को दोबारा टीएमसी में शामिल हो गए. कोलकाता में टीएमसी के पार्टी दफ्तर में मुकुल रॉय ने ममता बनर्जी की उपस्थिति में टीएमसी में वापसी की. इससे पहले शुक्रवार की दोपहर मुकुल रॉय टीएमसी दफ्तर पहुंचे और ममता बनर्जी सहित टीएमसी के बड़े नेताओं से मुलाकात की. घर से निकलते हुए मीडिया से बातचीत में मुकुल रॉय ने साफ कर दिया कि वे टीएमसी दफ्तर जा रहे हैं. इस बीच ममता बनर्जी ने पार्टी दफ्तर में टीएमसी की बड़ी बैठक बुलाई थी और मुकुल रॉय के औपचारिक रूप से पार्टी ज्वॉइन करने से पहले पार्टी की लंबी बैठक चली. मुकुल रॉय के साथ उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय भी टीएमसी में शामिल हुए हैं.

Leave a Reply