बिना मीटिंग और मतदान, दो लोगों ने मिलकर चुन लिया एक को? ये है BJP का आंतरिक लोकतंत्र- बघेल

इलियासी ने भागवत के लिए क्या कहा यह महत्वपूर्ण नहीं है, महत्वपूर्ण यह है कि मोहन भागवत मस्जिद और मजार दोनों जगह गये और यह असर है राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का, अभी देखते जाइये यह कारवां और आगे बढ़ेगा तो देश में बहुत सारे परिवर्तन देंगे दिखाई- भूपेश बघेल

'दो ने मिलकर एक को चुन लिया'
'दो ने मिलकर एक को चुन लिया'

Politalks.News/Delhi/Chattishgarh. एक तरफ जहां कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर सियासी गहमगहमी अपने चरम पर है तो वहीं देश की सबसे बड़ी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यकाल को आगे बढ़ाने का फैसला लिया है. हालांकि अभी तक इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन जिस तरह के बीजेपी नेताओं के बयान सामने आ रहे हैं उससे ये साफ़ है कि उनका कार्यकाल आगे बढ़ने वाला है. हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री एवं पार्टी के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि, ‘जेपी नड्डा अच्छा काम कर रहे हैं उन्हें पूरा देश पसंद करता है. ऐसा ही काम वे आगे भी करते रहेंगे.’ आगामी राज्यों के विधानसभा चुनावों और लोकसभा चुनाव के तहत जेपी नड्डा का पद पर बने रहना भी एक कारण हो सकता है. तो वहीं बीजेपी अध्यक्ष चयन को लेकर देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस मुखर हो गई है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘दो लोगों ने मिलकर एक को चुन लिया? ऐसे ही भाजपा ने अपना ‘अध्यक्ष’ चुन लिया.’

आपको बता दें कि 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां अभी से तैयारियों में जुट गई हैं. एक तरफ देश में कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव को लेकर हलचल है वहीं इसी बीच अब बीजेपी अध्यक्ष को लेकर भी चर्चा शुरू हो गई है. बीजेपी के मौजूदा अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल 19 जनवरी 2023 को समाप्त हो रहा है. सूत्रों के मुताबिक, लोकसभा चुनाव को देखते हुए जेपी नड्डा का कार्यकाल लोकसभा चुनाव तक बढ़ाया जा सकता है और उन्हें सेवा विस्तार दिया जा सकता है. इससे पहले जेपी नड्डा जून 2019 से जनवरी 2020 तक बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष भी रह चुके हैं. जेपी नड्डा से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे. वहीं नड्डा का कार्यकाल बढ़ाये जाने की खबरों के बीच कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है.

यह भी पढ़े: किस VIP नेता को ‘एक्स्ट्रा सर्विस’ देने से इंकार करने पर हुई अंकिता की हत्या? कांग्रेस ने खोला मोर्चा

राजधानी रायपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘कांग्रेस के अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है, यह पूरा देश जानता है. भाजपा के अध्यक्ष का चुनाव हो गया किसी को पता ही नहीं चला. यह कैसा लोकतंत्र है भाई? दो लोगों ने मिलकर एक को बना दिया, बस हो गया! न मीटिंग, न मतदान, न चुनाव की तिथि और अध्यक्ष दोबारा बन गये. भाजपा में आंतरिक लोकतंत्र कहां है. उनका अध्यक्ष दोबारा बन गया और किसी को पता चला. मीडिया में चर्चा हुई है? क्यों नहीं हुई. किसी भाजपा नेता से यह सवाल पूछिए न आप? यहां भाजपा के राष्ट्रीय स्तर के सब नेता हैं. उनसे पूछा जाना चाहिए कि उनके यहां अध्यक्ष का चुनाव कैसे हो गया. किसी को पता भी नहीं चला. सच्चाई यह है कि भाजपा में ही आंतरिक लोकतंत्र की कोई जगह नहीं है.’

Patanjali ads

यह भी पढ़े: वर्तमान में सीएम गहलोत से भी ज्यादा पॉवरफुल हैं सीपी जोशी, चाहें तो सरकार गिरा दें- सुमित्रा सिंह

वहीं पत्रकारों से बात करते हुए सीएम भूपेश बघेल ने RSS प्रमुख मोहन भागवत के मस्जिद जाने के सवाल पर कहा कि, ‘इलियासी ने क्या कहा यह महत्वपूर्ण नहीं है, महत्वपूर्ण बात यह है कि मोहन भागवत मस्जिद और मजार दोनों जगह गये. यह राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का असर है. अभी तो यात्रा का तीसरा सप्ताह शुरू हुआ है. अभी देखते जाइये यह कारवां और आगे बढ़ेगा तो देश में बहुत सारे परिवर्तन दिखाई देंगे जो भारत जोड़ो यात्रा का उद्देश्य है.’ वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कांग्रेस अध्यक्ष की दावेदारी से खुद को दूर बताया.

Leave a Reply