प्रतिज्ञा यात्रा से किसान, महिला, युवा और बेरोजगारों को साधने की कोशिश, प्रियंका ने लगाई वादों की झड़ी

यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस की 'प्रतिज्ञा यात्रा', बाराबंकी से कांग्रेस ने फूंका बिगुल, प्रियंका ने बताईं 7 प्रतिज्ञाएं, किसान-महिला और युवाओं पर फोकस, स्मार्ट फोन, स्कूटी, बिजली बिल माफ, किसानों की कर्जा माफी का फेंका पासा, प्रियंका पर टिकी है कांग्रेस की उम्मीद

0
लोक लुभावन 7 वचनों से लबरेज प्रियंका की 'प्रतिज्ञा यात्रा' का आगाज
लोक लुभावन 7 वचनों से लबरेज प्रियंका की 'प्रतिज्ञा यात्रा' का आगाज
Advertisement2

Politalks.News/Uttarpradesh. उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव का बिगुल बजने से पहले कांग्रेस ने प्रदेश में प्रतिज्ञा यात्रा (हम वचन निभाएंगे) शुरू की. तीन शहरों से होकर गुजरने वाली इस यात्रा को प्रियंका गांधी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस दौरान किसान, महिला युवा और बेरोजगारों को अपने एजेंडे के केंद्र बिंदु में रखकर प्रियंका गांधी ने वादों का झड़ी लगा दी. बाराबंकी से शुरू हुई कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा के दौरान प्रियंका गांधी ने सात प्रतिज्ञाओं का भी ऐलान किया. प्रियंका ने कहा कि, ‘कांग्रेस अगर सत्ता में आती है तो लड़कियों को स्मार्ट फोन और स्कूटी दी जाएगी, जबकि किसानों का पूरा कर्जा माफ कर दिया जाएगा. कोरोना काल के दौरान का बिजली का बिल माफ कर दिया जाएगा, जबकि बाद के बिजली के बिल का आधा पैसा माफ किया जाएगा’. साथ ही महिलाओं के लिए फिर एक खास घोषणा करते हुए प्रियंका ने महिलाओं के लिए अलग से बजट जारी करने की भी घोषणा कर दी.

कांग्रेस ने लीं ये 7 प्रतिज्ञाएं
1. टिकटों में महिलाओं की 40 सीट प्रतिशत हिस्सेदारी
2. लड़कियों को स्मार्टफोन और स्कूटी
3.किसानों का पूरा कर्जा माफ
4. 2500 में गेहूं-धान, 400 पाएगा गन्ना किसान
5. बिजली बिल सबका हाफ, कोरोना काल का बकाया साफ
6. दूर करेंगे कोरोना की मार परिवार को देंगे 25 हज़ार
7. 20 लाख युवाओं को सरकारी रोजगार
“हम वचन निभाएंगे” नारे के साथ ‘प्रतिज्ञा यात्रा’ शुरू की गई

यूपी चुनाव में कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा
यूपी चुनाव में कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा

यह भी पढ़ें- देवभूमि में कांग्रेस का मिशन घर वापसी! हरक सिंह ने हरीश रावत को बताया बड़ा भाई, मांगी माफी

शनिवार को कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा की शुरुआत करने बाराबंकी पहुंचीं प्रियंका गांधी ने महिलाओं से भी बातचीत की. प्रियंका गांधी बाराबंकी के एक खेत में महिला किसानों से उनके कामकाज और उनके रहन-सहन को जाना. प्रियंका गांधी ने कहा कि, ‘मैं उनकी कामकाजी परिस्थितियों को समझना चाहती हूं कि वे अपनी बेटियों की परवरिश कैसे कर रही हैं और क्या वे उन्हें शिक्षित करने में सक्षम है’.

fcyx0ljvcaeaxlz
किसानों से उनके कामकाज और उनके रहन-सहन को जाना

सरकार बनी तो 20 लाख युवाओं को रोजगार देगी कांग्रेस
बाराबंकी में चुनावी वादों की झड़ी लगाते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि, ‘कोरोना के कारण आम आदमी के बिगड़े बजट को सुधारने के लिये हर परिवार को 25 हजार रूपये की आर्थिक मदद दी जाएगी. वहीं 20 लाख युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा. धान और गेहूं का समर्थन मूल्य 2500 रूपये क्विंटल किया जाएगा. इससे पहले प्रियंका वाड्रा लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर अपने पहले संकल्प में 2022 के चुनाव में महिलाओं को टिकट बंटवारे में 40 प्रतिशत हिस्सेदारी का वादा किया था.

यह भी पढ़ें- कश्मीर का राज्यपाल रहते इतना बोला जाता तो मेरे घर ED-इनकम टैक्स वाले पहुंच जाते- सत्यपाल मलिक

आज होगी केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक
यूपी विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों को लेकर कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति की शनिवार को बैठक भी होने वाली है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस बैठक की अध्यक्षता करेंगी. कांग्रेस यूपी में चुनाव प्रत्याशियों की पहले ऐलान कर सियासी बढ़त लेने की तैयारी कर रही है. प्रियंका गांधी को यूपी चुनाव का चेहरा बनाकर भी पार्टी महिला कार्ड खेलने की कोशिश कर रही है. लड़की हूं, लड़ सकती हूं का नारा भी इसी दिशा में उठाया गया कदम माना जा रहा है.

यूपी में प्रियंका ने दिखाई है गजब की सक्रियता
प्रियंका गांधी की पिछले कुछ सालों में लगातार यूपी में सक्रियता देखी जा रही है. लखीमपुर खीरी कांड में किसानों को कुचलकर मार देने की घटना के बाद भी उन्होंने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर जोरदार हमला बोला था. उन्होंने लखीमपुर खीरी में पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी और इसके लिए दो दिन हिरासत में भी बिताए थे.

यह भी पढ़े: पंजाब में नुराकुश्ती! कैप्टन की पाकिस्तानी दोस्त अरूसा आलम के ISI लिंक की जांच करवाएगी चन्नी सरकार

हालिया प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है कांग्रेस का
यूपी विधानसभा के हालिया कई चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को महज सात सीटें मिली थीं. लेकिन इस बार कांग्रेस पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है. शुक्रवार को प्रियंका गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव एक ही विमान में सवार थे और आमने -सामने आए. हालांकि कांग्रेस ने किसी बड़े सियासी दल से गठबंधन का कोई संकेत नहीं दिया है.

Leave a Reply