चुनाव आयोग के साथ बीजेपी पर ममता का बड़ा आरोप, ‘एजेंसियों के जरिए पैसे भिजवा रही है बीजेपी’

बंगाल में बंगाली ही राज करेगा, हम भारतीय जनता पार्टी को हराकर रहेंगे- ममता बनर्जी, 2016 में विधानसभा चुनाव 7 चरणों में हुए थे, तब तृणमूल कांग्रेस जीत गई थी, तो इस बार 8 चरणों में चुनाव से ममता बनर्जी को क्या प्रॉब्लम है?- अर्जुन सिंह

एजेंसियों के जरिये बंगाल पैसे भिजवा रही है बीजेपी - बनर्जी
एजेंसियों के जरिये बंगाल पैसे भिजवा रही है बीजेपी - बनर्जी

Politalks.news/WestBengal: बंगाल विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान हो चूका है और इसी के साथ बंगाल में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई है. चुनाव आयोग के अनुसार बंगाल में 8 चरणों में चुनाव होंगे. इसी को लेकर TMC नेताओं ने चुनाव आयोग और बीजेपी पर सवाल उठाने खड़े कर दिए हैं. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा कि बंगाल में 8 चरणों में चुनाव क्यों कराये जा रहे हैं? जो भाजपा ने कहा वहीं चुनाव आयोग ने किया. वहीं ममता बनर्जी के इस बयान पर पलटवार करते हुए बंगाल बीजेपी उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने सवाल उठाये और पूछा कि 2016 में 7 चरणों में विधानसभा चुनाव हुए थे, अब 8 चरणों से समस्या क्या है?

बंगाल के साथ साथ अन्य 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान भी हो चूका है. केंद्रीय चुनाव आयोग की और से की गई पत्रकार वार्ता में बताया गया कि बंगाल में 8 चरणों में चुनाव होंगे और परिणाम 2 मई को आएगा. चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. ममता बनर्जी ने कहा कि जो भाजपा ने कहा, वही चुनाव आयोग ने किया. एक जिले में दो-तीन चरणों में चुनाव क्यों? आखिर बंगाल में आठ चरणों में चुनाव क्यों कराए जा रहे हैं?

यह भी पढ़ें:- पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों का हुआ एलान, सबसे ज्यादा 8 चरणों में होंगे पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्र अपनी ताकतों का इस तरह दुरुपयोग नहीं कर सकता. अगर केंद्र सरकार इस तरह अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करेगी तो यह बड़ी भूल होगी, उन्हें इसका अंजाम भुगतना होगा. हम आम लोग हैं और अपनी लड़ाई लड़ेंगे. भाजपा ने एजेंसियों के जरिये जिलों में पैसे भेजे हैं. ये सब तरीके काम नहीं आएंगे, बंगाल में बंगाली ही राज करेगा, हम भारतीय जनता पार्टी को हराकर रहेंगे.

Patanjali ads

ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से अपील करते हुए कहा कि मैं चुनाव आयोग से अपील करती हूं कि वह पैसे के दुरुपयोग को रोके, भाजपा ने एजेंसियों के जरिये जिलों में पैसे भेजे हैं. आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि बंगाल में कई चरणों में चुनाव हो रहें है. बंगाल में चुनाव के दौरान हिंसा का अपना एक इतिहास रहा है इसी को मद्देनजर रखकर शायद चुनाव आयोग ने 8 चरणों में चुनाव कराने का एलान किया है. साल 2011 में छह चरणों में मतदान हुआ था तो वहीं 2016 में सात चरणों में चुनाव हुए थे.

यह भी पढ़ें:- खाचरियावास के बिगड़े बोल- ‘लुगाई ढूंढती फिर रही है मोदी जी को, लेकिन उन्हें लुगाई की चिंता ही नहीं है’

ममता बनर्जी के बयान पर बंगाल के बीजेपी उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने हैं. अर्जुन सिंह ने कहा कि 2 मई, दीदी गई! वर्ष 2016 में विधानसभा चुनाव 7 चरणों में हुए थे, तब तृणमूल कांग्रेस जीत गई थी, तो इस बार 8 चरणों में चुनाव से ममता बनर्जी को क्या प्रॉब्लम है? इसे अपनी आसन्न हार को लेकर उनकी हताशा कहें या बहाने बनाने की शुरुआत, अभी और बहाने आएंगे सामने.

वहीं कांग्रेस के बंगाल प्रभारी और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हमने चुनाव आयोग से गुहार लगाई कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान सुरक्षा का इंतजाम ऐसा हो कि लोग बिना डरे चुनाव में भाग ले सकें. इसलिए चुनाव आयोग ने निर्णय लिया है कि बंगाल में 8 चरणों में चुनाव होंगे.

Leave a Reply