लव अब बन गया है जिहाद, इसमें फंसकर लड़किया करवा लेती है 35, 37 और 100 टुकड़े- साध्वी प्रज्ञा

इतनी विभत्स हत्या, इतनी नृशंसता, इतनी क्रूरता सिर्फ लव जिहाद वाले ही कर सकते हैं, हमें लड़कियों के अंदर यह चीज जगानी पड़ेगी कि आप हिन्दू हो तो हिंदुओं में ही करो शादी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विवादित बयान देकर उस लड़की का अपमान किया है जो मर गई है- साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

साध्वी प्रज्ञा का बड़ा बयान
साध्वी प्रज्ञा का बड़ा बयान

Sadhvi Pragya On Shradha Murder Case. दिल्ली के महरौली में हुए श्रद्धा मर्डर केस को लेकर सियासी बयानबाजी का दौर चरम पर पहुंच चूका है. अब तो इस मर्डर केस की चुनावी राज्य गुजरात में भी गूंज सुनाई देने लगी है. नेताओं, धर्मगुरुओं की तरफ से लगातार इस मुद्दे टिप्पणियां की जा रही हैं. वहीं दिल्ली पुलिस इस पूरे घटनाक्रम का खुलासा करने में लगी हुई है. इसी बीच अक्सर अपने बयानों लेकर चर्चा में रहने वाली बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की प्रतिक्रिया सामने आई है. साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि, ‘लव तो अब कुछ नहीं होता है क्योंकि लव तो अब जिहाद हो गया है. निश्चित रूप से यह पाप है, दुराचार है. हिन्दू लड़कियों को इससे बचकर रहना चाहिए.’ वहीं श्रद्धा मर्डर केस पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान पर साध्वी प्रज्ञा ने पलटवार किया है.

गौरतलब है कि श्रद्धा, आफताब के साथ लिव इन में रह रही थी. आफताब ने श्रद्धा की हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े किये और दावा किया कि उसने श्रद्धा के शरीर के टुकड़ों को जंगल में फेंक दिया है. पुलिस ने आरोपी आफ़ताब को गिरफ्तार कर लिया है और आरोपी ने भी अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है. फ़िलहाल पुलिस आरोपी आफ़ताब के बताए ठिकानों पर श्रद्धा के शरीर के टुकड़ों की छानबीन के साथ ही अन्य सबूतों कि तलाश में जूता है तो वहीं अब इस मुद्दे पर सियासत गर्माती जा रही है. अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाली मध्यप्रदेश के भोपाल से सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का भी बयान आया है, जिसमें उन्होंने इसे लव जिहाद का मामला बताते हुए लड़कियों को जागरूक करने की बात कही है.

यह भी पढ़े: पायलट ने दिया धोखा, एक गद्दार को कैसे बना दोगे CM?- गहलोत का आलाकमान को दो टूक संदेश

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि, ‘एक लड़की श्रद्धा, जिसके 35 टुकड़े करके फ्रिज में रखे और उसे एक-एक कर फेंका, वह एक योजना के तहत है. लव जिहाद का हमारे समाज में जहर फैल रहा है, वह देश के लिए एक कलंक है. इसको मिटाना और जागरूक करना, हम सबकी ज़िम्मेदारी है. क्योंकि हिन्दू कभी ऐसा नहीं करता है. इतनी विभत्स हत्या, इतनी नृशंसता, इतनी क्रूरता सिर्फ लव जिहाद वाले ही कर सकते हैं. हमें लड़कियों के अंदर यह चीज जगानी पड़ेगी कि आप हिन्दू हो तो हिंदुओं में ही शादी करो. लव कुछ नहीं होता है. लव तो अब जिहाद हो चुका है. पहले प्रेम होता था, प्रेम का मतलब समर्पण होता है. हम सन्यासी एक बात कहते हैं, हमारा जीवन इस प्रकार का हो जाता है कि जब हम प्रेम करते हैं तो अटूट प्रेम करते हैं और प्रभु को समर्पित हो जाते हैं.

Patanjali ads

सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने आगे कहा कि, ‘प्रेम की परिभाषा को लव कर दिया है और लव के आगे इसमें जिहाद जोड़ दिया है.’ वहीं साध्वी प्रज्ञा ने श्रद्धा मर्डर केस में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की प्रतिक्रिया पर आपत्ति जताई. सीएम गहलोत पर निशाना साधते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि, ‘इसका समर्थन करने वाले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिस तरह इसके पक्ष में बयान दिया है उससे उस लड़की का अपमान किया है जो मर गई है. लव जिहाद का उदाहरण देखिए यूपी में एक को हॉस्पिटल से नीचे फेंक दिया जाता है, किसी को घर में जाकर मार दिया जाता है, किसी के घर वालों को मार दिया जाता है. लड़कियों का अपहरण करके उनको तमाम प्रकार से प्रताड़ित किया जाता है. विवाह कर लेता है, बेच दिया जाता है. उनके साथ क्रूरतम अत्याचार किए जाते हैं.’

यह भी पढ़े: रामपुर में बदल रहा ‘आजम माहौल’, जो बनते थे कभी आवाज, अब क्यों छोड़ रहे हैं साथ?

साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि, ‘जो भाग आती है वह तो बच जाती हैं और भाग कर नहीं आती है वो जिंदगी भर रोती हैं और जो नहीं बच पाती वह अपने 35,37 और 100 टुकड़े करवा लेती हैं. इस प्रकार से हमारे देश की बालिकाएं, जिनकी पूजा होती है, उस बालिका का भविष्य खतरे में है, इमें इस पर जागृति होना चाहिए.’ इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा था कि, ‘यह एक दुर्घटना है, लेकिन इसे मुद्दे को नाम दे दिया गया है, जुमले कस दिए गए हैं. यह कोई नई बात नहीं है. सदियों से अंतरजातीय और अलग-अलग धर्मों में शादियां होती आ रही हैं. लेकिन, अब राजनीति करने के लिए एक धर्म को टारगेट बनाया जा रहा है. क्योंकि धर्म के नाम पर शंका पैदा करना, मॉब क्रिएट करना बड़ा ही आसान हो गया है. इसलिए एक कौम को टारगेट बना दिया जाता है.’

Leave a Reply