गहलोत-पायलट को साथ रख राहुल ने साधा आदिवासी वोट बैंक, प्रदेश के साथ गुजरात चुनाव पर रही नजर

आदिवासियों और कांग्रेस पार्टी दोनों के बीच है एक गहरा रिश्ता, आपके इतिहास की हम रक्षा करते हैं, हम बिलकुल भी आपके इतिहास को मिटाना या दबाना नहीं चाहते हैं, जब हमारी UPA की सरकार थी तो आपके लिए आपकी जमीन, जंगल, जल की रक्षा करने के लिए ऐतिहासिक कानून लाए, आज पुरे देश में दो विचारधारों की लड़ाई चल रही है, आदिवासियों के इतिहास को कुचलने का काम कर रही है बीजेपी बनाना चाहती है दो हिंदुस्तान- राहुल गांधी

0
'आदिवासी इतिहास को मिटाने का काम कर रही BJP बनाना चाहती है दो हिंदुस्तान'
'आदिवासी इतिहास को मिटाने का काम कर रही BJP बनाना चाहती है दो हिंदुस्तान'
Advertisement2

Politalks.News/RahulGandhi/BeneshwarDham. तीन दिन चला कांग्रेस का नव संकल्प शिविर रविवार को समाप्त हो गया. इसके बाद सोमवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बेणेश्वर धाम पहुंच 132 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले हाईलेवल पुल का शिलान्यास किया. इस दौरान सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अजय माकन, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, सरकार में मंत्री महेन्द्रजीत मालवीय सहित कई दिग्गज नेता धाम में मौजूद रहे. बेणेश्वर धाम पहुंच सबसे पहले राहुल गांधी ने हरि मंदिर और शिव मंदिर में पूजा अर्चना की. वहीं एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए राहुल गांधी ने एक बार फिर बीजेपी पर जमकर हमला बोला. राहुल गांधी ने कहा कि, ‘आदिवासियों और कांग्रेस पार्टी का गहरा रिश्ता है. आपके इतिहास की हम रक्षा करते हैं, आपके इतिहास को मिटाना दबाना नहीं चाहते हैं. जबकि बीजेपी दो हिंदुस्तान बनाना चाहती है. एक अमीरों का दूसरा कमजोर व गरीबों का, हम दो हिंदुस्तान नहीं चाहते हैं.’

प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव और उससे पहले इसी साल गुजरात मे होने वाले चुनाव के बीच पहले तीन दिन उदयपुर में नव संकल्प शिविर और उसके बाद डूंगरपुर के बेणेश्वर धाम में पुल का उदघाटन और उसके बाद गुजरात से लगते बांसवाड़ा में विशाल जनसभा को संबोधित करना आगामी विधानसभा चुनाव के लिए एक सियासी मैसेज है. राहुल गांधी की इन विशाल जनसभा को आदिवासी इलाके की राजनीति के हिसाब से अहम माना जा रहा है. आदिवासी कांग्रेस का परंपरागत वोट बैंक रहा है, लेकिन BJP के बाद स्थानीय पार्टियों ने इसमें सेंध लगा दी है. पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को यहां से भारी नुकसान उठाना पड़ा था. इसी नुकसान की भरपाई के लिए खुद कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां एक विशाल सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘आज सुबह मैंने बेणेश्वर धाम में दर्शन किए. मुझे बहुत खुशी है. यहां हम इस पुल का शिलान्यास कर रहे हैं. हर साल लाखों आदिवासी यहां दर्शन करने आते हैं. बारिश के समय उन्हें बहुत मुश्किल होती है, इसलिए इस पुल का शिलान्यास किया गया.’

यह भी पढ़े: कश्मीर से कन्याकुमारी तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ निकालेगी कांग्रेस, हम जीतेंगे, जीतेंगे, जीतेंगे- सोनिया गांधी

बेणेश्वर धाम में लगने वाले आदिवासी मेले का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि, ‘आदिवासियों और कांग्रेस पार्टी दोनों के बीच एक गहरा रिश्ता है. आपके इतिहास की हम रक्षा करते हैं, हम बिलकुल भी आपके इतिहास को मिटाना या दबाना नहीं चाहते हैं, जब हमारी UPA की सरकार थी तो आपके लिए आपकी जमीन, जंगल, जल की रक्षा करने के लिए ऐतिहासिक कानून लाए. बेणेश्वर में जब मेला होगा तो मैं भी वहां आना चाहूंगा. यह आदिवासियों का महाकुंभ होता है. मैं भी अपनी आंखों से देखना चाहता हूं, दर्शन करना चाहता हूं.’ इस दौरान राहुल गांधी ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा और कहा कि, ‘आज पुरे देश में दो विचारधारों की लड़ाई चल रही है. BJP आदिवासियों को दबाने कुचलने का काम करती है. एक तरफ कांग्रेस पार्टी है जो कहती है सबकी रक्षा करनी है, सबको जोड़कर चलना है. दूसरी तरफ BJP है, बांटने का काम करती है, दबाने कुचलने का काम करती है.’

राहुल गांधी ने आगे कहा कि, ‘देश में हर युवा जानता है कि आज रोजगार नहीं मिलता है. महंगाई जो आपको दिख रही है वो बढ़ती जा रही है. राजस्थान की सरकार गरीबों व आदिवासियों के लिए काम कर रही है. यहां पर 132 करोड़ रुपये का पुल बनाया इससे आप सभी को फायदा होगा. BJP दो हिंदुस्तान बनाना चाहती है. एक हिंदुस्तान अमीरों- उद्योगपतियों का और दूसरा गरीब आदिवासियों का. हम एक ही हिंदुस्तान के पक्ष में है.’ इस दौरान राहुल गांधी प्रदेश सरकार की जमकर तारीफ़ की और कहा कि, ‘राजस्थान की सरकार आदिवासियों के लिए काम कर रही है. राजस्थान हेल्थ में सब प्रदेशों मेंआगे है. यहां स्वास्थ्य के लिए 10 लाख का बीमा है. कोई भी राज्य सरकार हेल्थ के क्षेत्र में इतना काम नहीं कर रही है. इंग्लिश मीडियम स्कूल के बारे में गहलोत बता रहे थे. इसका आदिवासियों को बड़ा फायदा होगा है. वे कहीं भी रोजगार पा सकते हैं. मैं राजस्थान सरकार, अशोक गहलोत और मंत्रियों को बधाई देना चाहता हूं. आप गरीब लोगों के लिए काम कर रहे हो, आप शिक्षा, हेल्थ के लिए काम कर रहे हो.’

यह भी पढ़े: भगवा टोपी पहनने वाले अगर प्रखर हिंदुत्ववादी तो फिर RSS की टोपी काली कैसे? संघ दे जवाब- सामना

वहीं इससे पहले सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘आज देश के सामने बहुत सारी चुनौतियां है, आज जगह-जगह दंगे कराए जा रहे. समझने की जररूत है कि दंगों का फायदा किसको मिलता है ? आज भाई को भाई से लड़ाया जा रहा. देश की अखंडता के लिए इंदिरा गांधी ,राजीव गांधी,सरदार बेअंत सिंह शहीद हो गए सामाजिक सुरक्षा मेरे एजेंडे में है, बुजुर्गों, विधवाओं, निशक्तजनों को पेंशन मिल रही है.’ बजट घोषणाओं का जिक्र करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि, ‘बजट में इतनी घोषणाएं क्या क्या गिनाऊं. 1 करोड़ 33 लाख परिवारों का बीमा कराया. कोरोना में देश में सबसे अच्छा प्रबंधन राजस्थान में हुआ. बिजली को लेकर आमजन को हमने राहत दी.’

वहीं सभा को संबोधित करते हुए सूबे के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि, ’50 प्रतिशत पद नौजवानो के लिए जिनकी उम्र कम है उनको राजनीती की अग्रिम पंक्ति में लाने का काम जो शुरू से राहुल गांधी कर रहे है उससे क्या है कि हमारा संकल्प जो हमने लिया है जनता के बीच में जाना, जनता से जुड़ना, नौजवानो को समझना, पद यात्राएं करना और जो नारा कल मंच से अजय माकन जी ने दिया भारत जोड़ो का नारा उस नारे को कांग्रेस पार्टी का एक एक कार्यकर्ता राजस्थान समेत पुरे देश में फैलाएगा. यही नहीं यह जहर नफरत की राजनीती जो भाजपा और RSS करती है उस राजनीती को खत्म करने का उस नफरत को उस आक्रोश को उस आक्रमण को उस हिंसा की भावना को खत्म करने का काम अगर कोई करेगा तो वो राहुल गाँधी जी करेंगे कांग्रेस पार्टी करेगी.’

Leave a Reply