सत्ता के लिए आतंकवादी को भी टिकट देने से नहीं चूकि BJP, इससे ज्यादा आत्मनिर्भर पार्टी नहीं देखी- कांग्रेस

उदयपुर में हुए कन्हैयालाल हत्याकांड में मुख्य आरोपी रियाज के बीजेपी नेताओं से कनेक्शन सामने आने के बाद कांग्रेस हुई आग बबूला, डोटासरा ने NIA के महानिदेशक को पत्र लिख की आरोपियों के बीजेपी नेताओं से कनेक्शन की जांच की मांग तो बोले पवन खेड़ा- मध्यप्रदेश में बजरंग दल के एक नेता बलराम सिंह की टेरर फंडिंग के आरोप में हुई थी गिरफ्तारी, आईटी सेल वाले आतंकवादी ही हैं, टेरर फंडिंग भी खुद ही करते हैं

0
'भाजपा करती है राष्ट्रवाद का ढोंग'
'भाजपा करती है राष्ट्रवाद का ढोंग'
Advertisement2

Politalks.News/KanhaiyaLalMurderCase/CongressvsBJP. बीजेपी नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर उदयपुर में हुए निर्मम हत्याकांड में NIA जांच में जुटी है. जब से कन्हैया लाल की हत्या में शामिल आरोपियों के बीजेपी नेताओं के साथ संबंध सामने आए हैं तभी से देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर है. मामले की गंभीरता को देखते हुए राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने मंगलवार को NIA महानिदेशक को पत्र लिख कन्हैयालाल के हत्यारे आतंकी रियाज के भाजपा का सदस्य होने और भाजपा नेता गुलाबचंद कटारिया के साथ उसकी तस्वीरों की जांच की भी मांग की. वहीं पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने AICC मुख्यालय से पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘भाजपा राष्ट्रवाद का ढोंग करती है उसका असली चेहरा आज पूरे देश के सामने है.’

उदयपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोहम्मद रियाज अत्तारी का पॉलिटिकल कनेक्शन सामने आने के बाद से कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर है. हाल ही में सामने आई एक तस्वीर में रियास भाजपा के कद्दावर नेता गुलाबचंद कटारिया के साथ नजर आ रहा है. यह तस्वीर 2018 की है. इसके अलावा BJP अल्पसंख्यक मोर्चा से जुड़े एक कार्यकर्ता का एक पुराना पोस्ट भी सामने आया है. इन फोटो के सामने आने के बाद से प्रदेश के साथ साथ देश की सियासत भी गरमा गई है. हालांकि कटारिया ने ये साफ कहा कि, ‘कोई भी अगर मेरे साथ आकर फोटो खिंचवाता है और बाद में गलत काम करता है तो इसमें मेरा क्या दोष.’ वहीं कांग्रेस अब इस मुद्दे को जोर शोर से उठाने में लगी है. मंगलवार को राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने NIA के महानिदेशक को पत्र लिख मामले की बीजेपी नेताओं से संबंध की भी जांच की मांग की.

यह भी पढ़े: सपा की सदस्यता ग्रहण कर योगी सरकार पर भड़के अखिलेश, सलाह वाले बयान राजभर ने किया पलटवार

वहीं इस पुरे मामले को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने पत्रकार वार्ता कर बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. पवन खेड़ा ने कहा कि, ‘पिछले एक सप्ताह में भाजपा का चेहरा बेनकाब हो गया है. उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या, आतंकवादी भाजपा का कार्यकर्ता निकला. जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों में से एक ‘तालिब हुसैन शाह’ बीजेपी का पदाधिकारी निकला. ‘तालिब हुसैन शाह’, जो जम्मू के भाजपा के माइनॉरिटी मोर्चा आईटी सेल का प्रभारी है, जब पकड़ा गया तब यह पवित्र अमरनाथ यात्रा के लिए जा रहे श्रद्धालुओं पर हमले की योजना बना रहा था. जिसकी देश के गृहमंत्री के साथ तक तस्वीर है.

पवन खेड़ा ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘राष्ट्रवाद की बात करने वालों के लिए क्या ये शर्म की बात नहीं है? और यह कोई पहला या दूसरा मौका नहीं है, जब भाजपा के नेता या कार्यकर्ता आतंकी गतिविधियों में लिप्त पाए गए हैं. ऐसी कई घटनाएं हैं. क़रीब दो साल पहले जम्मू कश्मीर में एक ऐसा ही मामला सामने आया था. जब आतंकियों को हथियार मुहैया कराने के आरोप में बीजेपी के पूर्व नेता एवं सरपंच ‘तारिक़ अहमद मीर’ को गिरफ्तार किया गया था. मीर पर हिजबुल कमांडर नवेद बाबू को हथियार देने का आरोप था, जो आतंकियों की मदद करने वाले डीएसपी दविंदर सिंह के साथ गिरफ्तार हुआ था.’

यह भी पढ़े: चार बेल्ट अगर राहुल गांधी को पड़ जाते तो इटली तक के राज बाहर आ जाते- प्रज्ञा ठाकुर का जुबानी हमला

पुरानी घटनाओं का जिक्र करते हुए पवन खेड़ा ने कहा कि, ‘साल 2017 में मध्यप्रदेश की वह घटना आपको याद होगी जब ATS की टीम ने अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का पर्दाफाश करते हुए ISI के 11 संदिग्धों को गिरफ्तार किया था. इनमें एक BJP आईटी सेल का सदस्य ध्रुव सक्सेना भी शामिल था. 2 साल बाद, 2019 में मध्यप्रदेश में बजरंग दल के एक नेता बलराम सिंह की गिरफ्तारी टेरर फंडिंग के आरोप में हुई थी. आईटी सेल वाले आतंकवादी ही हैं, टेरर फंडिंग भी खुद ही करते हैं, इससे ज्यादा आत्मनिर्भर पार्टी हमने नहीं देखी. भाजपा राष्ट्रवाद का ढोंग करती है उसका असली चेहरा आज पूरे देश के सामने है.’

खेड़ा ने केंद्र सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि, ‘नूपुर शर्मा, रियाज़ अटारी और तालिब हुसैन भी आपकी ही पार्टी का? खुद मेन्स्ट्रीम में रहने के लिए ऐसे कितने फ़्रिंज पाले हैं आपने? BJP सत्ता के लिए अपराध सिद्ध आतंकवादी को भी टिकट देने से नहीं चूकि. इसी भाजपा ने ‘मोहम्मद फारुख खान’ को स्थानीय चुनाव में श्रीनगर के वार्ड नंबर 33 से टिकट दिया था जो J&K लिबरेशन फ्रंट एवं हरकत उल मुजाहिदीन का सदस्य रह चुका है.’

Leave a Reply