सलमान, शाहरुख, आमिर पर भड़के नसरुद्दीन शाह तो PM मोदी पर साधा निशाना, पंडित ने किया पलटवार

नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में अब हुई बॉलीवुड की एंट्री, नसरुद्दीन शाह ने कहा- पीएम मोदी को आगे आकर रोकना चाहिए इस जहर को फैलने से, तीनों खान अभिनेताओं को लेकर बोले शाह- मुझे नहीं पता कि वे इसके बारे में अपने जमीर को कैसे समझाते होंगे, तो अशोक पंडित ने किया पलटवार- जब हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बन रहा था तो क्यों चुप थे?

सलमान, शाहरुख और आमिर खान की चुप्पी पर नसीरुद्दीन शाह ने बोला बड़ा हमला
सलमान, शाहरुख और आमिर खान की चुप्पी पर नसीरुद्दीन शाह ने बोला बड़ा हमला

Politalks.News/BJP/NupurSharma. भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद मचा सियासी बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा. हालांकि इस्लामिक देशों के भारी विरोध के बाद बीजेपी ने नूपुर को पार्टी से निष्कासित कर दिया है, लेकिन देशभर से इस मुद्दे पर किसी न किसी रूप में सियायी बयानबाजी जारी है. इसी बीच अब इस मामले में बॉलीवुड की भी एंट्री हो गई है. मशहूर फिल्म अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने इस मामले में जहां एक ओर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि पीएम मोदी को आगे आकर इस जहर को फैलने से रोकना चाहिए, तो वहीं शाह ने इस मामले में बॉलीवुड के तीन खानों- सलमान, शाहरुख और आमिर खान की चुप्पी पर बड़ा हमला बोला है.

नेशनल न्यूज़ चैनल एनडीटीवी से विशेष बातचीत में अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने नूपुर शर्मा के कथित विवादित बयान पर मचे सियासी घमासान का जिक्र करते हुए कहा कि वो (नूपूर शर्मा) कोई ‘फ्रिंज एलीमेंट’ नहीं थीं, वो एक पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता थीं. शाह ने कहा कि, ‘मैं चाहता हूं कि पीएम मोदी ट्विटर पर नफरत फैलाने वाले उन तमाम लोगों पर लगाम लगाएं, जिन्हें वो खुद फॉलो करते हैं. उन्हें गंभीरता से कुछ करना होगा….’ इसके साथ ही शाह ने पैगंबर मुहम्मद के बारे में नुपुर शर्मा की टिप्पणियों पर बॉलीवुड के तीन खानों- सलमान, शाहरुख और आमिर खान की चुप्पी पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि देश के सबसे बड़े सितारों का बोलना मतलब बहुत कुछ खोना जैसा हो गया है.

यह भी पढ़ें: 4 राज्यों की 16 राज्यसभा सीटों पर कल होगा घमासान, राजस्थान-हरियाणा में कांग्रेस की सियासी परीक्षा

अभिनेता नसरुद्दीन शाह ने तीनों खानों के बारे में कहा, “मैं उनके लिए कुछ नहीं बोल सकता, मैं उस स्थिति में नहीं हूं जिसमें वे हैं. मेरा मानना है कि उन्हें लगता है कि वे बहुत अधिक जोखिम उठा रहे होंगे लेकिन फिर भी मुझे नहीं पता कि वे इसके बारे में अपने आपको (अपने जमीर) को कैसे समझाते हैं.” तीनों खान द्वारा राजनीतिक मसलों पर टिप्पणी ना करने पर शाह ने कहा, “मुझे लगता है कि वे आज ऐसी स्थिति में हैं जहां उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ है.”

Patanjali ads

इसके साथ ही नसीरुद्दीन शाह ने हाल ही में सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ हुई घटना का हवाल देते हुए कहा कि “शाहरुख खान के साथ जो हुआ और जिस तरीके से उन्होंने इसका सामना किया वह काबिले तारीफ था. यह एक शिकार के अलावा और कुछ नहीं था”. शाह ने कहा कि, “उन्होंने केवल तृणमूल का समर्थन किया और ममता बनर्जी की सराहना की थी. सोनू सूद पर के घर भी छापा मारा. जो कोई भी बयान देता है या सवाल खड़ा करता है, उसे जवाब जरूर मिलता है, शायद मैं अगला हूं”.

यह भी पढ़े: बार बालाओं के साथ छेड़खानी करते नेताओं के वायरल वीडियो पर भड़के यूजर्स- नीचता की भी हद होती है

यही नहीं अभिनेता नसरुद्दीन शाह ने बॉलीवुड के उन अभिनेताओं और फिल्म निर्माताओं के बारे में भी बात की जो राष्ट्रवादी मानी जाने वाली परियोजनाओं में भाग ले रहे हैं. अक्षय कुमार की फिल्म और विवेक अग्निहोत्री की ब्लॉकबस्टर फिल्म द कश्मीर फाइल्स के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा कि, “वे जीत की तरफ रहना चाहते हैं.” उन्होंने विवादित फिल्म कश्मीर फाइल्स को हिन्दू नरसंहार का काल्पनिक वर्जन बताते हुए मोदी सरकार पर इसे प्रमोट करने का आरोप भी लगाया.

अशोक पंडित ने किया पलटवार: वहीं फिल्ममेकर अशोक पंडित ने अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के इस बयान पर पलटवार करते हुए उन्हें कटघरे में खड़ा किया है. अशोक पंडित ने ट्वीट किया कि, ‘जब इस्लामिक कट्टरपंथियों का पूरा गिरोह हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बना रहा था तो नसीरुद्दीन शाह चुप क्यों थे? क्या तब भी उन्होंने प्रधानमंत्री से ऐसी अपील की थी जब एमएफ हुसैन ने हिंदू देवताओं को गाली दी थी, मजाक बनाया था? इसे दोगलापन कहते हैं.’

यह भी पढ़े: पिछले 25 दिन के घटनाक्रम और राज्यसभा प्रत्याशियों से यह तय है कि कांग्रेस कभी नहीं सुधरने वाली!

दरअसल, बीजेपी पूर्व प्रवक्ता रहीं नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट में कथित तौर पर पैगबंर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी थी. बाद में मामले ने तूल पकड़ा तो एक दर्जन से ज्यादा इस्लामिक देशों ने बयान जारी कर दिया. कई जगह भारतीय सामान पर बैन लगा दिया गया था. किरकिरी के बाद बीजेपी ने नूपुर शर्मा को पार्टी से निकाल दिया. उधर, महाराष्ट्र समेत कई जगहों पर नूपुर के खिलाफ मामला भी दर्ज हो गया है.

Leave a Reply