uttarkashi tunnel rescue laborers came out of the tunnel
uttarkashi tunnel rescue laborers came out of the tunnel

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सिलक्यारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकाले जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने इस रेस्क्यू ऑपरेशन की सफलता को भावुक करने वाली बताया है. टीम ने मलबे से भरी सुरंग को भेदकर सभी मजदूरों को सकुशल बाहर निकलने में सफलता हासिल की है. इस मौके पर पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि उत्तरकाशी में हमारे श्रमिक भाईयों के रेस्क्यू ऑपरेशन की सफलता हर किसी को भावुक कर देने वाली है.

पीएम मोदी ने लिखा, ‘टनल में जो साथी फंसे हुए थे. उनसे मैं कहना चाहता हूं कि आपका साहस और धैर्य हर किसी को प्रेरित कर रहा है. मैं आप सभी की कुशलता और उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं. यह अत्यंत संतोष की बात है कि लंबे इंतजार के बाद अब हमारे ये साथी अपने प्रियजनों से मिलेंगे.’

pm modi
pm modi

प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘इन सभी के परिजनों ने भी इस चुनौतीपूर्ण समय में जिस संयम और साहस का परिचय दिया है, उसकी जितनी भी सराहना की जाए वो कम है. मैं इस बचाव अभियान से जुड़े सभी लोगों के जज्बे को भी सलाम करता हूं. उनकी बहादुरी और संकल्प-शक्ति ने हमारे श्रमिक भाइयों को नया जीवन दिया है. इस मिशन में शामिल हर किसी ने मानवता और टीम वर्क की एक अद्भुत मिसाल कायम की है. बता दें कि मजदूरों को टनल से बाहर निकालने के बाद अस्पताल भेजा जा रहा है.’

यह भी पढ़ें: राजस्थान में 0.90 फीसदी ज्यादा मतदान, क्या कहता है फलौदी का सट्टा बाजार?

Patanjali ads

गौरतलब है कि 12 नवंबर को दिवाली के त्योहार की सुबह पांच बजे के करीब भूस्खलन की वजह से 41 मजदूर सुरंग के भीतर फंस गए थे. तब से उन्हें बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू अभियान चल रहा था. कई मजदूरों के परिजन भी सिलक्यारा पहुंच गए थे. पीएमओ लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन पर निगाह बनाए हुए था. पीएमओ के अधिकारियों की टीम पिछले कई दिनों से यहां कैंप किए हुए थी. पाइप टनल बनाने की वजह से वहां दोबारा मलबा आने लगा था. मलबे की सफाई के बाद भीतर फंसे लोगों को पाइप टलन तक लाने के लिए प्लेटफार्म तैयार करना पड़ा. 17 दिन की मेहनत के बाद सभी मजदूरों को सुरक्षित निकालने में सफलता हासिल की है. इसके बाद पूरे सिलक्यारा में उत्सव का माहौल बन गया.

सूचना मिलते ही सीएम पुष्कर सिंह धामी भी दोबारा उत्तरकाशी पहुंच गए. वह सुबह भी सीएम सिलक्यारा गए थे और वहां बाबा बौखनाथ से सभी को सकुशल बाहर निकालने का आशीर्वाद मांगा था. पाइप टनल बनने के फौरन बाद सुरंग में नौ बेड का अस्थायी अस्पताल तैयार कर दिया गया था. देर शाम को जैसे की पहला मजदूर पाइप टनल के रास्ते बाहर निकाला. सीएम पुष्कर सिंह धामी ने स्वयं दोबारा टनल में जाकर मजदूरों को स्वागत किया. सीएम धामी ने फूल माला पहनाकर स्वागत किया. इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह भी मौजूद थे.

Leave a Reply