vice president vs sanjay raut
vice president vs sanjay raut

देश के उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिए गए एक बयान को लेकर सियासी हंगामा मच गया है. महाराष्ट्र के मुंबई के ओपेरा हाउस में श्रीमद राजचंद्र की जयंती समारोह में लोगों को संबोधित करते हुए धनखड़ ने महात्मा गांधी की तुलना पीएम मोदी से कर दी थी. उपराष्ट्रपति महोदय ने पीएम मोदी को युगपुरुष कहकर संबोधित किया था. इस बयान के खिलाफ विपक्षी नेताओं का लगातार प्रतिक्रिया सामने आ रही है. उद्धव ठाकरे समर्थित शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भी इस बयान पर अपना गुस्सा जताया है.

शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राउत ने कहा कि 2024 के बाद आप ये बात कायम रखना कि कौन ‘पुरुष’, ‘महापुरुष’ या ‘युगपुरुष’ यह हम तय नहीं करेंगे इतिहास तय करता है, सदियां तय करती है, विश्व की जनता तय करती है. महात्मा गांधी को पूरी दुनिया ने महापुरुष माना है. राज्यसभा सांसद ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आगे कहा ‘आप महापुरुष या युगपुरुष की बात छोड़िए अगर आप पुरुष भी होते तो जम्मू कश्मीर में सेना शहीद नहीं होते, लद्दाख में चीन नहीं घुसता. प्रधानमंत्री जी (नरेंद्र मोदी) का हम आदर करते हैं, क्योंकि वो प्रधानमंत्री हैं.

उपराष्ट्रपति धनखड़ के बयान की विपक्ष के नेताओं ने भी आलोचना की है. कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने उपराष्ट्रपति के बयान की निंदा की है. उन्होंने कहा कि उपराष्ट्रपति ने सभी हदें पार कर दी हैं. उपराष्ट्रपति ने कहा था कि पिछली शताब्दी के महापुरुष महात्मा गांधी थे. टैगोर ने कहा कि चापलूसी की एक सीमा होती है, उन्होंने सभी हदें पार कर दी हैं. अगर आप प्रधानमंत्री मोदी की तुलना महात्मा गांधी से करते हैं तो यह शर्मनाक है.

यह भी पढ़ें: राजस्थान में 0.90 फीसदी ज्यादा मतदान, क्या कहता है फलौदी का सट्टा बाजार?

Patanjali ads

वहीं बसपा सांसद दानिश अली ने भी उपराष्ट्रपति के बयान पर प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि आज उपराष्ट्रपति ने कहा पिछली शताब्दी के महापुरुष महात्मा गांधी थे, इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं. मैं उपराष्ट्रपति से पूछना चाहूंगा की संसद में प्रधानमंत्री के ही दल के सांसद द्वारा एक समुदाय विशेष को अपशब्द इस्तेमाल करने की छूट दे कर किस नये युग की शुरुआत की गई है.

गौरतलब है कि उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ सोमवार को महाराष्ट्र के मुंबई के ओपेरा हाउस में श्रीमद राजचंद्र की जयंती समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी की तुलना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से कर दी थी. उपराष्ट्रपति धनखड़ ने कहा, ‘मैं आपको एक बात कहना चाहूंगा कि पिछली शताब्दी के महापुरुष महात्मा गांधी थे. इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं. महात्मा गांधी ने सत्य और अहिंसा से हमें अंग्रेजों की गुलामी से छुटकारा दिलाया. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को प्रगति के उस रास्ते पर डाल दिया है, जिस पर हम सदैव देखना चाहते थे. अब उनके इस बयान पर बवाल मच रहा है.

Leave a Reply