बंगाल में तेज हुई सियासत, ममता की बहू को सीबीआई ने दिया समन, अभिषेके बनर्जी ने कहा- नहीं झुकेंगे

कोयला तस्करी मामले में अभिषेक बनर्जी की पत्नी को समन जारी किया गया है, अभी सीबीआई ने अभिषेक की पत्नी रुजीरा नरूला को ही समन दिया गया है और उन्हें आज ही पूछताछ के लिए बुलाया गया है, अभिषेक को सम्मन अभी नहीं दिया गया है, नरूला से पूछताछ के बाद अभिषेक को जल्द ही समन दिया जाएगा

Abhishek Banerjee Pti 755 1597936643 749x421
Abhishek Banerjee Pti 755 1597936643 749x421

Politalks.News/WestBengalAssembly. पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र और प्रदेश सरकार के बीच सियासी जंग तेज हो गई है. किसी भी हाल में बंगाल फतह का मन बना चुकी भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपने सारे घोड़े खोल दिए हैं, जिसके चलते मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. इसी के चलते केंद्रीय जांच ब्‍यूरो (सीबीआई)/की एक टीम आज सीएम ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के घर पर पहुंची. सूत्रों के मुताबिक, कोयला तस्करी मामले में अभिषेक बनर्जी की पत्नी को समन जारी किया गया है. सीबीआई से जुड़े सूत्रों ने बताया कि अभी सीबीआई ने अभिषेक की पत्नी रुजीरा नरूला को ही समन दिया गया है और उन्हें आज ही पूछताछ के लिए बुलाया गया है. सूत्रों ने बताया कि अभिषेक को सम्मन अभी नहीं दिया गया है. सूत्रों ने बताया नरूला से पूछताछ के बाद अभिषेक को जल्द ही समन दिया जाएगा.

दूसरी तरफ सीबीआई का समन मिलने पर टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट कर कहा कि आज दो बजे सीबीआई ने मेरी पत्नी के नाम पर नोटिस दिया है. बनर्जी ने कहा हमें देश के कानून पर पूरा भरोसा है. जो भी हो, अगर उन्हें लगता है कि वह इसे हमें रोकने या परेशान करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं तो ये उनकी गलती है. हम उनमें से नहीं हैं जो कि झुक जाएं” आपको बता दें, ऐसा पहली बार है जब कोयला तस्करी मामले में सीबीआई ने एक्‍शन लिया और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी के घर पर पहुंची. सीबीआई का टीम जब अभिषेक के घर पहुंची तो वह और उनकी पत्नी घर पर नहीं थे. हालांकि हालात बिगड़ने की आशंका को देखते हुए पुलिस ने पूरे इलाके की बैरिकेटिंग कर दी है.

यह भी पढ़ें: बंगाल में BJP v/s BJP: कोकीन रखने के आरोप में गिरफ्तार पामेला ने विजयवर्गीय के करीबी पर लगाए आरोप

गौरतलब है कि कोयला के अवैध खनन और तस्‍करी के मामले में जहां सीबीआई लगातार अभिषेक बनर्जी के करीबियों के खिलाफ छापेमारी कर रही है. इससे पहले सीबीआई ने कुछ दिन पहले ही कोयला तस्करी के मामले में कारोबारी और युवा तृणमूल कांग्रेस के नेता विनय मिश्रा, व्यवसायी अमित सिंह और नीरज सिंह के तीन आवासों पर छापेमारी की थी. उस समय भी छापे के दौरान सीबीआई को कोई भी घर पर नहीं मिला था, जिसके बाद विनय मिश्रा समेत अन्‍य सभी के नाम पर लुकआउट नोटिस जारी किया गया था. कई बार पूछताछ के लिए बुलाए जाने पर भी हाजिर न होने पर विनय मिश्रा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हो चुका है. सीबीआई ने इस मामले में अनूप माजी उर्फ लाला की संपत्तियों को जब्त करने के लिए हाई कोर्ट में अपील की है.

Patanjali ads

यह भी पढ़ें: प0बंगाल चुनाव: तेज हुई स्थानीय बनाम बाहरी की जंग, टीएमसी बोली- ‘बंगाल को चाहिए अपनी बेटी’

आपको बता दें कि अभिषेक बनर्जी को लेकर पश्चिम बंगाल में इन दिनों राजनीति तेज है. गृह मंत्री अमित शाह अपनी रैलियों में अभिषेक बनर्जी का नाम लेते हुए सीधा हमला बोल रहे हैं. वहीं ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी ने अमित शाह के खिलाफ मानहानि का केस दायर किया है. वहीं अब सीबीआई ने कोयला तस्करी मामले में यह आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने अवैध रूप से खनन किए गए कोयले, जिसकी कीमत कई हजार करोड़ रुपये है, को पश्चिम बंगाल के पश्चिमी हिस्सों से चलाए गए एक रैकेट द्वारा कई वर्षों तक ब्लैक मार्केट में बेचा गया है. इस मामले में, दिसंबर के शुरुआती हफ्तों में सीबीआई ने कोलकाता के सीए गणेश बगारिया के दफ्तर में भी छापा मारा था. इस मामले में बीजेपी तृणमूल कांग्रेस को घेरती रही है.

Leave a Reply