गुजरात में बीजेपी-कांग्रेस की ILU-ILU की कहानी… जानिए ‘आप’ की जुबानी

गुजरात चुनावों में पहली बार भाग्य आजमा रही आप ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर कर दिखाई बीजेपी और कांग्रेस के बीच कथित जुगलबंदी, इशारों इशारों में कसा दोनों पार्टियों पर तंज, जमकर शेयर किया जा रहा है वीडियो

ilu ilu between bjp congress in gujarat
ilu ilu between bjp congress in gujarat

SocialMediaViral on Gujarat Election. गुजरात विधानसभा का घमासान अपने चरम पर है तो वहीं प्रदेश में 25 सालों से सत्तासीन भाजपा, सत्ता को लालायित कांग्रेस और राज्य में पहली बार सियासी मैदान में उतरी आम आदमी पार्टी ने सारे घोड़े खोल दिए हैं. इसी बीच आप ने बड़ा दावा करते हुए कहा है कि गुजरात में बीजेपी इस बार मुसीबत में है और मुश्किल में फंसी बीजेपी की गाड़ी कांग्रेस की मदद से बाहर निकलेगी! क्या दोनों के बीच ILU-ILU वाली कहानी चल रही है? इस कहानी को आम आदमी पार्टी (AAP) अपनी जुबानी बता रही है. इसके लिए आप पार्टी ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी अपलोड किया है गुजरात में भाजपा और कांग्रेस के बीच कथित ‘जुगलबंदी‘ की ओर इशारा करते हुए तंज कसा है.

दरअसल, गुजरात में अपने सियासी पैर पसारने का जत्न कर रही अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने सोशल मीडिया पर गुजरात का एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में कीचड़ में फंसे भारतीय जनता पार्टी का प्रचार कर रहे एक वाहन को कांग्रेस के पोस्टरों से सजे प्रचार वाहन द्वारा खींचकर बाहर निकालते देखा जा सकता है. इस पर ‘आप’ का कहना है कि गुजरात में बीजेपी के रुके हुए चुनावी वाहन को बचाने के लिए कांग्रेस जी-तोड़ कोशिश कर रही है.

आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर वीडियो शेयर किया और इसके कैप्शन में लिखा, ‘गुजरात में भाजपा की अटकी हुई चुनावी गाड़ी को बचाने में पूरा जोर लगाती कांग्रेस.. ये है चुनावों में BJP और Congress के ILU-ILU की कहानी’.

यह भी पढ़ें: गुजरात विस चुनाव के लिए AAP ने जारी की उम्मीदवारों की 15वीं लिस्ट

Patanjali ads

https://twitter.com/AamAadmiParty/status/1591388954187960320?s=20&t=3tTsFqoR_qzqgPyeBCuI1Q

सोशल मीडिया पर इस वीडियो को जमकर शेयर किया जा रहा है और तीनों पार्टियों के समर्थक वीडियो पर कमेंट कर अपनी प्रतिक्रियाएं व्यक्त कर रहे हैं. हालांकि इस वीडियो को तंज और मजाक, दोनों तरीकों से लिया जा रहा है लेकिन सच तो ये है कि कोई भी पार्टी गुजरात विधानसभा चुनावों में एक दूसरों को नीचा दिखाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं.

याद दिला दें कि 182 सीटों वाली गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा हो चुकी है. 1 दिसंबर और 5 दिसंबर को दो चरणों में मतदान होगा. पहले चरण में 89 सीटों पर मतदान होगा, जबकि दूसरे चरण में 93 सीटों पर वोटिंग होगी. वर्तमान गुजरात विधानसभा का कार्यकाल 18 फरवरी, 2023 को समाप्त हो रहा है. 2017 के गुजरात विस चुनावों में बीजेपी को 99 सीटों पर जीत मिली थी, जबकि विपक्षी दल कांग्रेस के खाते में 77 सीटें गिरी.

यह भी पढ़ें: गुजरात दक्षिण का नवसारी जिला बीजेपी का गढ़, लेकिन ढहाने की जुगत में लगी है कांग्रेस

गुजरात में बीजेपी 1995 से लगातार सत्ता में हैं और इसे बीजेपी का अभेद गढ़ माना जाता है. गुजरात में आमतौर पर सत्तारूढ़ बीजेपी और उसकी प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पार्टी के बीच आमना-सामना होता रहा है, लेकिन पिछले ढाई दशकों से कांग्रेस यहां वनवास पर चल रही है. आगामी चुनावों में केजरीवाल एंड पार्टी के चुनावी मैदान में एंट्री से मुकाबला त्रिकोणीय होने के आसार हैं. आम आदमी पार्टी पिछले कुछ सालों से गुजरात में अपनी जमीन मजबूत करने में जुटी हुई है. आप ने 2017 के गुजरात विस चुनावों में 33 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा किए थे, लेकिन तब वह अपना खाता तक नहीं खोल सकी थी. हालांकि इस बार आप काफी मजबूत दिख रही है और अपने प्रभारी प्रचार प्रसार के जरिए जनाधार तैयार कर रही है.

Leave a Reply