सोशल मीडिया पर उठ रही उन्नाव पीड़िता के लिए इंसाफ की आवाज

सोशल मीडिया पर आज की हलचल

पॉलिटॉक्स ब्यूरो. हैदराबाद गैंगरेप और उसके बाद तेलंगाना पुलिस द्वारा चारों आरोपियों के एनकाउंट की घटना को 24 घंटे भी नहीं बीते थे, तभी एक और दुखभरी खबर से माहौल गमगीन हो गया. उन्नाव गैंग रैंप पीड़िता की शुक्रवार रात 11:40 पर मौत हो गई. कोर्ट जाते समय हमलावरों ने उसपर पेट्रोल छिड़कर आग लगा ​दी. इसमें पीड़िता 95 फीसदी तक झुलस गई. उसे दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में रैफर किया गया जहां शुक्रवार रात इलाज के दौरान में उसकी मौत हो गई. अब महिला सुरक्षा का मामला फिर से सुर्खियों में आ गया. राजधानी दिल्ली में एक ओर जहां युवाओं द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है, वहीं सोशल मीडिया पर भी हैदराबाद एनकाउंट और उन्नाव मुद्दा जमकर वायरल हो रहा है. सामान्य यूजर्स के साथ कई बड़े राजनीतिज्ञों ने भी देश में बढ़ते जा रहे दुष्कर्म और इंसाफ (Voice of justice) पर आवाज उठाई.

यह भी पढ़ें: ‘भयानक, क्रूर अपराध…ये रेपिस्ट सबसे बुरे किस्म के शैतान हैं’

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘उन्नाव पीड़िता ने चोटों के कारण दम तोड़ दिया, ये जानकर दुख हुआ. मेरे विचार और प्रार्थना उसके परिवार के साथ हैं. अपराधियों को कठोरतम सजा मिलनी चाहिए. देश में बलात्कार के मामलों की बढ़ती संख्या सबसे अधिक चिंताजनक है. केंद्रीय सरकार और सभी राज्य सरकार को इस जघन्य अपराध पर अंकुश लगाने की दिशा में काम करना होगा. (Voice of justice)

Patanjali ads

उन्नाव मुद्दे पर ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपनी राय रखते हुए ट्वीट किया, ‘जिस उन्नाव रेप पीड़िता को जलाकर मारने की कोशिश की गई उसकी कलरात दिल्ली में हुई दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक. इस दुःख की घड़ी में बीएसपी पीड़ित परिवार के साथ है. यू.पी. सरकार पीड़ित परिवार को समुचित न्याय दिलाने हेतु शीघ्र ही विशेष पहल करे, यही इंसाफ का तकाज़ा व जनता की मांग है’.

अंतरराष्ट्रीय महिला पहलवान और भाजपा नेता बबीता फोगाट ने हैदराबाद पुलिस के निर्णय से आज पूरा देश खुशी मना रहा है. देश की महिलाओं में आज एक अलग तरह की सकारात्मक उर्जा का उदय हुआ है.

वहीं भाजपा नेता साध्वी उमा भारती ने कहा कि उन्नाव की इस घटना के बाद ऐसी कार्यवाही हो कि उत्तर प्रदेश में महिलाओं की तरफ़ बुरी नज़र डालने वाले लोग भय से कांप उठे. (Voice of justice)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्नाव में हुए दुखद हादसे पर सहानुभूति जताते हुए पोस्ट किया, ‘दुखद. क्रूरता की कोई सीमा नहीं है’.

वहीं सपा नेता अखिलेश यादव ने उन्नाव केस में जो भी हुआ उसके लिए यूपी की बीजेपी सरकार को जिम्मेदार बताते हुए नारी के सम्मान के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस्तीफा देने की बात कही.

इसके अलावा, कई सामान्य यूजर्स ने अलग अलग फोटो शेयर करते हुए उन्नाव और हैदराबाद एनकाउंटर पर अपनी प्रतिक्रिया जताई. (Voice of justice)

Leave a Reply