priyanka gandhi in karnataka
priyanka gandhi in karnataka

KarnatakaAssemblyElections2023. कर्नाटक विधानसभा चुनाव के प्रचार कैंपेन के अंतिम चरणों में एक दूसरे पर जमकर जुबानी वार और पलटवार किए जा रहे हैं. कई बार मर्यादाएं भी लांघी गईं है और कई बार तीष्ण हमले कर सामने वाले को झल्ली झल्ली भी किया गया है. इसी कड़ी में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘91 बार गाली…’ वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मेरा भाई राहुल गांधी देश के लिए गाली क्या, गोली खाने को भी तैयार है. अपने चुनावी प्रचार के दौरान एक जनरैली में पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस ने मुझे 91 बार गालियां दी है.

इसके जवाब में प्रियंका गांधी ने कहा, ‘पीएम लिस्ट बनवाते हैं कि उन्हें 91 बार गालियां दी गईं. इन लोगों ने मेरे परिवार को जितनी गालियां दीं, इसकी लिस्ट बनवाएं तो पूरी किताब छपवानी पड़ेगी.’ प्रियंका कर्नाटक के जमखंडी में जनसभा को संबोधित कर रही थीं. यहां उन्होंने कुडाची में रोड शो कर जनता से कांग्रेस के प्रत्याशी को जिताने की अपील की.

यह भी पढ़ेंः भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी कार्रवाई से कांग्रेस सबसे ज्यादा परेशान, मुझे 91 बार गालियां दी

प्रियंका ने कर्नाटक में सत्ता वापसी का दावा करते हुए कहा कि कर्नाटक की जनता ने 40 प्रतिशत कमीशन की लूट वाली भाजपा सरकार को नकार दिया है। अब 100 फीसदी प्रगति की गारंटी वाली कांग्रेस सरकार आ रही है।

Patanjali ads

गालियों की जगह जनता की समस्याओं की लिस्ट नहीं बनवाते पीएम

जमखंडी में स्थानीय मुद्दों को तरजीह देते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि किसी ने प्रधानमंत्री के ऑफिस में बैठकर एक लिस्ट बनाई है. वो लिस्ट जनता या किसानों की समस्याओं की नहीं है. इस लिस्ट में ये जानकारी है कि मोदी जी को किसने और कितनी बार गाली दी है. पीएम गालियों की तो लिस्ट बनवाते हैं लेकिन जनता की समस्याओं की लिस्ट नहीं बनवाते. प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी जी को दी गई गालियां एक पेज में आ रही हैं. अगर मेरे परिवार को इन लोगों ने जो गालियां दी हैं, उनकी लिस्ट बनाएं तो किताब पर किताब छपवा लेंगे.

प्रियंका ने हमला जारी रखते हुए कहा कि मैंने पहला ऐसा प्रधानमंत्री देखा है जो जनता के सामने आकर रोता है कि मुझे गाली दे रहे हैं. जनता का दुख सुनने के बजाय अपना दुखड़ा उनको सुनाते हैं. कांग्रेस नेता ने नसीयत देते हुए कहा कि मोदी जी को हिम्मत रखनी चाहिए. ये सार्वजनिक जीवन है. सब सहना पड़ता है, हिम्मत रखनी पड़ती है, आगे बढ़ना पड़ता है. अगर आप लोगों की बात सुनेंगे तो बेहतर होगा.

आंगनवाड़ी महिलाओं को रिटायरमेंट के बाद मिलेंगे 3 लाख रुपए

इससे पहले खानपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रियंका ने आंगनवाड़ी में काम करने वाली महिलाओं के लिए बड़ा वादा किया. उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी की सैलरी 15 हजार, मिनी आंगनवाड़ी की सैलरी 10 हजार, आशा कर्मचारियों की सैलरी 8 हजार रुपए और मिड-डे मील में काम करने वाली महिलाओं का मानदेय 5 हजार रुपए किया जाएगा. साथ ही साथ आंगनवाड़ी से रिटायरमेंट के बाद 3 लाख और मिनी आंगनवाड़ी से रिटायरमेंट के बाद 2 लाख रुपए दिए जाएंगे. कर्नाटक की सरकारी बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त सफर की सुविधा देने की बात भी प्रियंका ने कही है.

https://twitter.com/priyankagandhi/status/1652604717069901826?s=20

इसके अलावा, कांग्रेस नेता ने स्थानीय जनता से सरकार प्राप्ति के बाद पांच अन्य वादें भी किए जिनमें गृह ज्योति योजना के तहत प्रत्येक परिवार को हर महीने 200 यूनिट मुफ्त बिजली, गृह लक्ष्मी के तहत प्रत्येक घर की महिला प्रमुख को हर महीने 2000 रुपए, युवा निधि के तहत प्रत्येक ग्रेजुएट को हर महीने 3000 रुपए और डिप्लोमा होल्डर्स को 1500 रुपए और अन्न भाग्य के तहत प्रत्येक बीपीएल परिवार को हर महीने 10 किलो  मुफ्त चावल देना शामिल है.

Leave a Reply