पीएम मोदी का तंज- 10 साल ऐसी सरकार रही जिसने समय किया व्यर्थ, हमें करनी पड़ी दोगुनी मेहनत

पीएम मोदी ने उत्तराखंड में भरी हुंकार, 18 हजार करोड़ की 18 परियोजनाओं की दी सौगात, बिना नाम लिए विपक्ष पर जमकर साधा निशाना, बोले- अब दुनिया के किसी देश के दबाव में नहीं आ सकती सरकार

0
देवभूमि में विपक्ष पर जमकर गरजे पीएम मोदी
देवभूमि में विपक्ष पर जमकर गरजे पीएम मोदी
Advertisement2

Politalks.News/Uttarakhand. 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी कमर कस ली है. भाजपा उत्तरप्रदेश (UttarPradesh Assembly Election) के साथ-साथ उत्तराखंड (Uttarakhand Assembly Election) में भी सत्ता दोहराना चाहती है. बीजेपी (BJP) की ओर से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देवभूमि उत्तराखंड में हूंकार भरी. आगामी चुनाव के मद्देनजर उत्तराखंड पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने देहरादून स्थित परेड ग्राउंड की विशाल जनसभा को संबोधित किया. पीएम मोदी ने यहां 18 हजार करोड़ रूपये की 18 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. इस दौरान मंच से पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘पिछली सरकारें दबाव में काम करती थी, लेकिन आज जो सरकार है वो दुनिया के किसी देश के दबाव में नहीं आ सकती’.

देवभूमि उत्तराखंड पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले सभी विकास कार्यों की जानकारी ली. विकास कार्यों के शिलान्यास के साथ पीएम मोदी ने विजय संकल्प महारैली को संबोधित भी किया. इस दौरान मंच पर पीएम मोदी के साथ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत उनकी कैबिनेट के कई मंत्री और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक भी मौजूद रहे. इस दौरान पीएम मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘सुरक्षित हाथों में सम्पूर्ण भारतवर्ष है, आपके आशीष से ही संवरता तरुण प्रदेश है, आपके आह्वान पर करोड़ों जन चल पड़े स्वयं पर विश्वास दृढ़कर, विकास पथ पर बढ़ चले आपके अनुराग पर पर्वतजनों को नाज है, आगमन से आपके पुलकित पर्वत राज है’.

यह भी पढ़े: ममता बनर्जी को शिवसेना का बड़ा झटका, राउत बोले- कांग्रेस को छोड़ नहीं बन सकता कोई फ्रंट

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, ‘उत्तराखंड पूरी देश की आस्था ही नहीं, बल्कि कर्म और कठोरता की भी भूमि है. इसलिए इस क्षेत्र का विकास, इस क्षेत्र को भव्य स्वरूप देना, डबल इंजन की सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है. बीते वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद, अनेक जरूरी प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद आखिरकार आज ये दिन आया है. मैंने केदारपुरी की पवित्र धरती से कहा था और आज देहरादून से दोहरा रहा हूं, ये परियोजनाएं इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने में अहम भूमिका निभाएंगी.’

इस दौरान पीएम मोदी ने पिछली सरकाओं पर भी जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा कि, ‘इस शताब्दी की शुरुआत में, अटल जी ने भारत में कनेक्टिविटी बढ़ाने का अभियान शुरू किया था. लेकिन उनके बाद 10 साल देश में ऐसी सरकार रही, जिसने देश का, उत्तराखंड का, बहुमूल्य समय व्यर्थ कर दिया. 10 साल तक देश में इंफ्रास्ट्रक्चर के नाम पर घोटाले हुए, घपले हुए. इससे देश का जो नुकसान हुआ उसकी भरपाई के लिए हमने दोगुनी गति से मेहनत की और आज भी कर रहे हैं.’

पीएम मोदी ने कहा कि, ’21वीं सदी के कालखंड में भारत में कनेक्टविटी का ऐसा महायज्ञ चल रहा है, जो भविष्य के भारत को विकसित देशों के श्रंखला में लाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा. इस महायज्ञ का एक यज्ञ आज देवभूमि में हो रहा है.’ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, ‘साल 2007 से 2014 के बीच जो केंद्र की सरकार थी, उसने सात साल में उत्तराखंड में केवल 288 किलोमीटर नेशनल हाईवे बनाए. जबकि हमारी सरकार ने अपने सात साल में उत्तराखंड में 2 हजार किलोमीटर से अधिक लंबाई के नेशनल हाईवे का निर्माण किया है.’ पीएम मोदी ने कहा कि, ‘कुछ राजनीतिक दलों द्वारा समाज में भेद करके सिर्फ एक तबके को, चाहे वो अपनी जाति का हो, किसी खास धर्म का हो या अपने छोटे से इलाके के दायरे का हो, इसी पर ध्यान देना यही प्रयास हुए हैं और उसमें ही उनको अपना वोट बैंक नजर आता है.’

यह भी पढ़े: मरुधरा में ओमिक्रॉन की आहट से दहशत! ‘बेफ्रिक’ कांग्रेस-भाजपा और बसपा में भीड़ जुटाने की होड़

पीएम मोदी ने कहा कि, ‘पहले की सरकार ने उत्तराखंड में नेशनल हाईवे पर 7 साल में 600 करोड़ के आस पास खर्च किया. हमारी सरकार ने 7 साल में नेशनल हाईवे पर 12,000 करोड़ रुपये से अधिक खर्च कर चुकी है. अरे भाई सीमावर्ती पहाड़ी क्षेत्रों के इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी पहले की सरकारों ने उतनी गंभीरता से काम नहीं किया, जितना करना चाहिए था. बॉर्डर के पास सड़कें बनें, पुल बनें, इस ओर उन्होंने ध्यान नहीं दिया.’ पीएम मोदी ने कहा कि ‘अगर बात वन रैंक वन पेंशन हो, आधुनिक अस्त्र-शस्त्र हो, आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देना हो, जैसे उन लोगों ने हर स्तर पर सेना को हतोत्साहित करने की कसम खा रखी थी. आज जो सरकार है वो दुनिया के किसी देश के दबाव में नहीं आ सकती.’

स्वास्थ्य सुविधाओं का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, ‘डबल इंजन की सरकार में उत्तराखंड के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी तेजी से काम चल रहा है. उत्तराखंड में तीन नए मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए गए हैं. ऋषिकेश एम्स तो सेवा दे ही रहा है, कुमाऊं में भी सेटेलाइट सेंटर सेवा देना शुरु कर देगा.’ अपने संबोधन के अंत में पीएम मोदी ने एक कविता भी पढ़ी.

यह भी पढ़े: क्या कैप्टन के बाद अब आजाद? ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे गुलाम नबी क्या बनाने जा रहे हैं नई पार्टी?

पीएम मोदी ने कहा कि, ‘जहां पवन बहे संकल्प लिए, जहां पर्वत गर्व सिखाते हैं, जहाँ ऊँचे नीचे सब रस्ते, बस भक्ति के सुर में गाते हैं, उस देव भूमि के ध्यान से ही, उस देव भूमि के ध्यान से ही, मैं सदा धन्य हो जाता हूँ, है भाग्य मेरा, सौभाग्य मेरा, मैं तुमको शीश नवाता हूँ. तुम आँचल हो भारत माँ का, जीवन की धूप में छाँव हो तुम, बस छूने से ही तर जाएँ, सबसे पवित्र वो धरा हो तुम, बस लिए समर्पण तन मन से, मैं देव भूमि में आता हूँ, मैं देव भूमि में आता हूँ, है भाग्य मेरा, सौभाग्य मेरा, मैं तुमको शीश नवाता हूँ.’

जहाँ अंजुली में गंगा जल हो, जहाँ हर एक मन बस निश्छल हो, जहाँ गाँव गाँव में देश भक्त, जहाँ नारी में सच्चा बल हो, उस देवभूमि का आशीर्वाद लिए, मैं चलता जाता हूँ, उस देवभूमि का आशीर्वाद, मैं चलता जाता हूँ, है भाग्य मेरा, सौभाग्य मेरा, मैं तुमको शीश नवाता हूँ. मंडवे की रोटी, हुड़के की थाप, हर एक मन करता, शिवजी का जाप, ऋषि मुनियों की है, ये तपो भूमि, कितने वीरों की, ये जन्म भूमि, मैं तुमको शीश नवाता हूँ और धन्य धन्य हो जाता हूँ.

 

Leave a Reply